.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: आखिर कानून के शिकंजे में फंस ही गया साइबर अपराधी


लोगों के अंगूठा निशान का क्लोन बनाकर करता था ठगी

02 साल पूर्व ग्राहक सेवा केंद्र पर आए व्यक्ति के खाते से ढाई लाख रुपए उड़ाए थे

आजमगढ़: रिपोर्ट- वेद प्रकाश सिंह 'लल्ला' : डिजिटल युग में जहां सारे काम कंप्यूटरीकृत हो चुके हैं, वहीं इस विधा के जानकार ठग जनमानस की जानकारी के अभाव में उन्हें अपना शिकार बनाने में देर नहीं लगाते। पलक झपकते लोगों का बैंक खाता खाली हो चुका होता है और जब तक पीड़ित को इस बात की जानकारी होती तब तक साइबर अपराध करने वाला व्यक्ति उस निर्दोष के पैसों पर अपनी अय्याशी के चरम पर होता है। ऐसे ही मामले का खुलासा शुक्रवार को जनपद में पुलिस विभाग के साइबर सेल द्वारा किया गया। साइबर सेल की मदद से पुलिस ने मऊ जनपद के रहने वाले साइबर अपराधी को गिरफ्तार किया है, जिसने अंगूठा निशान का क्लोन बनाकर लोगों को अपनी जालसाजी का शिकार बनाया था। मऊ जिले के रानीपुर थाना अंतर्गत पड़री ग्राम निवासी दिवाकर गिरी ने जिले के साइबर थाने में एफआईआर दर्ज कराते हुए आरोप लगाया कि उनके इलाहाबाद बैंक खाते से ढाई लाख रुपए अज्ञात साइबर अपराधी द्वारा निकाल लिए गए हैं। घटना वर्ष 2019 में हुई थी। इस बात की जानकारी पीड़ित को घटना के लगभग 2 वर्ष बाद हुई और पीड़ित ने इस संबंध में आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कराया। इस मामले में जिले के साइबर सेल को मिली जांच के आधार पर तकनीकी संसाधनों का प्रयोग किया गया। विवेचना के दौरान तमाम बैंक खाताधारकों के अंगूठे निशान का क्लोन बनाकर जालसाजी करने में मऊ जिले के मधुबन थाना अंतर्गत बनपोखरा ग्राम निवासी अंकित कुमार सिंह पुत्र लल्लन सिंह का नाम प्रकाश में आया। वह अपने ग्राहक सेवा केन्द्र पर आये शिकायतकर्ता का धोखे से फार्म पर अगूंठा लेकर बायोमैट्रिक क्लोन बनाकर साइबर ठगी किया था। सही तथ्य मिलने के बाद साइबर थाने के प्रभारी राजेश यादव व उनकी टीम ने शुक्रवार की सुबह मऊ जनपद के मादी सिपाह तिराहे से चिन्हित किए गए अंकित कुमार को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत विधिक कार्रवाई की गई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment