.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: संगीनों के साये में दूसरे दिन गांव में पसरा रहा सन्नाटा,अब आया नया मोड़


बरदह का मुहम्मदपुर फेटी गांव पुलिस छावनी बना रहा, ग्रामीणों में दबी जुबान होती रही चर्चा 

हत्या को लेकर पड़ी दो अलग अलग तहरीर, पुलिस अपनी जांच में जुटी

आजमगढ़ : बरदह थाना क्षेत्र के मुहम्मदपुर फेटी गांव में बुधवार को हुई अंधाधुंध फायरिग के दूसरे दिन भी गांव पुलिस तैनात रही। गोलीबारी में केराकत (जौनपुर) क्षेत्र के अमिहित गांव के बंटी सिंह की मौत का खौफ पूरे गांव में बना हुआ था। खौफ इस कदर की गांव में सन्नाटा पसरा था। आम दिनों में किसी दरवाजे पर बैठकर चर्चा करने वाले नहीं दिखे।अधिकतर घरों के दरवाजे बंद थे तो वहीं गांव में लोगों का आवागमन नहीं के बराबर था। जिस महताब के घर पर पहुंचकर बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया था उनके दरवाजे पर भी रोज की तरह बैठकी नहीं दिखी। पहले महताब और उसके बाद मृतक बंटी सिंह के भाई प्रमोद सिंह द्वारा तहरीर देने से ग्रामीणों की समझ में नहीं आ रहा था कि माजरा आखिर है क्या। कोई खुलकर तो कुछ बोलने से परहेज कर रहा था लेकिन दबी जुबान इस बात को लेकर लोग चर्चा करते रहे।फिलहाल प्रमोद की तहरीर के बाद घटना में एक नया मोड़ जरूर आ गया है। पहले महताब ने अपने ही गांव के जिला कारागार में निरुद्ध शाहजहां उर्फ नैयर पर घटना में शामिल होने का आरोप लगाया था, तो बाद में प्रमोद ने महताब के भाई पर आरोप लगाया कि बंटी की हत्या की साजिश में वह शामिल थे। अब दोनों तहरीर के आधार पर पुलिस अपने तरीके से जांच में जुट गई है। फिलहाल पुलिस ने कुछ संदिग्धों को हिरासत में भी लिया है, जिनसे गहन पूछताछ की जा रही है। गुरुवार को गांव में कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं था। महताब के घर व आसपास पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। थानाध्यक्ष विनोद कुमार ने बताया कि पूरे मामले की जांच की जा रही है और दो भी दोषी मिलेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment