.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: समाजवाद के योद्धा विजय बहादुर राय का किया गया नागरिक सम्मान


12 जून 1975 को ऐतिहासिक दिन था जब इंदिरा गांधी  का निर्वाचन रद्द किया गया था

लोकबंधु राजनारायण के प्रमुख सहयोगी रहे विजय बहादुर राय, इस समय कुछ अस्वस्थ हैं

आजमगढ़: 12 जून लोकतंत्र के लिए ऐतिहासिक दिन है इसी दिन को 1975 में तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव में सरकारी साधनों का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए वरिष्ठ अधिवक्ता रमेश चंद्र श्रीवास्तव एवं शांतिभूषण ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की थी जिस पर न्यायमूर्ति जगमोहन लाल सिन्हा ने ऐतिहासिक फैसला देते हुए श्रीमती गांधी का चुनाव रद्द कर दिया था और लोकबंधु राज नारायण को ऐतिहासिक जीत मिली थी।
इसी ऐतिहासिक दिन की याद में लोकबंधु राजनारायण एवं न्यायमूर्ति जगमोहन लाल सिन्हा को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए समाजवादी विचारधारा की जनपद में बराबर अलख जगाने वाले एवं लोकबंधु के प्रमुख सहयोगी विजय बहादुर राय जो इस समय कुछ अस्वस्थ हैं उनके आवास एलवल पर शनिवार को पहुंचकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर दो प्रस्ताव पास किए गए जिसमें कहा गया है कि आज न्यायपालिका को न्यायमूर्ति जगमोहन लाल सिन्हा से प्रेरणा लेने की आवश्यकता है, वहीं लोकतंत्र में आस्था रखने वाले राजनीतिक साथी लोकबंधु राजनारायण से संघर्ष की प्रेरणा लेकर लोकतंत्र की मजबूती के लिए काम करें। 
इस अवसर पर विधायक आलमबदी आजमी, जेपी नारायण अध्यक्ष उत्तर प्रदेश किसान महासभा, डॉक्टर विनय कुमार सिंह यादव संयोजक आजमगढ़ फिल्म महोत्सव, विजय कुमार देवव्रत सचिव तमसा प्रेस क्लब, लोकतंत्र सेनानी द्विजेंद्र कुमार मिश्र, बासुदेव ठाकुर, सुभ्रांशु शेखर पांडेय, डॉक्टर बद्रीनाथ, आनंद कुमार उपाध्याय पूर्व अध्यक्ष चीनी मिल सठियांव, सुभाषचंद्र सिंह पत्रकार, कहानीकार हेमंत कुमार, ओमप्रकाश सिंह, रामदरस यादव पूर्व डायरेक्टर, डॉ. रमेश मौर्य, रामायण राम, रामसिंह यादव पत्रकार, हेमेंद्र सिंह फोटो पत्रकार, प्रभात श्रीवास्तव, शरद राय, सृजन श्रीवास्तव आदि लोगों ने श्री राय के स्वस्थ रहने एवं दीर्घायु की कामना की।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment