.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: सियासी उलटफेर में बसपा विधानमंडल दल के नेता बने शाह आलम 'गुड्डू जमाली'


बसपा ने अम्बेडकर नगर के दो विधायकों को बाहर का रास्ता दिखाया

मुबारकपुर के विधायक शाह आलम विधानमंडल दल के नेता मनोनीत किए गए

आजमगढ़: उत्‍तर प्रदेश में इस समय सियासी उठा पटक सत्‍ता के साथ ही विपक्ष में भी खूब है। पंचायत चुनावों के बाद अब जिला अध्‍यक्ष और ब्‍लाक प्रमुख जैसे पदों को लेकर भी सियासी रार सामने आ रही है। इसी कड़ी में गुरुवार को बसपा की ओर से पंचायत चुनावों के बाद आंबेडकरनगर के पार्टी के दो पुराने नेताओं को बाहर का रास्‍ता दिखाकर नए चेहरों को शीर्ष पदों के लिए तरजीह दी जा रही है। जिले के बसपा कार्यकर्ताओं के लिए गुरुवार का दिन खुशियों भरा रहा। मुबारकपुर के विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को पार्टी ने विधानमंडल दल का नेता मनोनीत किया है। वर्ष 2012 व 2017 में लगाकर मुबारकपुर से विधायक चुने गए शाह आलम पार्टी सुप्रीमों के विश्वास पात्र लोगों में शुमार रहे हैं। शायद यही कारण रहा कि वर्ष 2014 के लोेकसभा चुनाव में पार्टी ने उन्हें लोकसभा चुनाव में प्रत्याशी बनाया, लेकिन उस समय वह तीसरे नंबर पर रहे थे। लोकसभा चुनाव में हार के बाद भी पार्टी ने उन पर विश्वास कर 2017 के विधानसभा चुनाव में टिकट दिया तो उन्होंने यह सीट जीतकर बसपा की झोली में डाल दी। बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश मुख्यालय की ओर से जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि पंचायत चुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के कारण तत्काल प्रभाव से दो विधायकों को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। लालजी वर्मा को नेता विधानमंडल दल से हटाते हुए शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली को विधानमंडल दल का नेता बनाया गया है। दूसरे निष्काषित विधायक राम अचल राजभर हैं। इसके साथ ही पार्टी के सभी पदाधिकारियों को यह भी निर्देशित किया गया है कि इन दोनों विधायकों को पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में नहीं बुलाया जाएगा तथा भविष्य में इन्हें कभी भी कोई भी चुनाव बहुजन समाज पार्टी से नहीं लड़ाया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment