.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: ग्रामीणों ने जलमग्न रास्तों पर धान रोप जताया विरोध


जल जमाव के चलते कई गांवों में हैं परेशानी, एमएलसी के गांव में भी राह चलना हुआ मुश्किल

अहरौला-कप्तानगंज मार्ग पर भी सड़क पर उतरे लोग

आजमगढ़ : बारिश के दौरान ग्रामीण क्षेत्र के रास्तों पर चलना मुश्किल हो गया है। इस समस्या से सभी परेशान हैं, लेकिन कुछ लोगों ने विरोध का नया रास्ता चुन लिया। जलमग्न सड़क पर धान रोपकर व्यवस्था को आईना दिखाने का प्रयास किया। महराजगंज में विधान परिषद सदस्य राकेश कुमार यादव उर्फ गुड्डू के पैतृक गांव देवारा कदीम (नहरुमपुर) में ग्रामीणों ने रास्ते पर धान रोपकर बताया कि महराजगंज से औघड़गंज, देवारा जदीद जाने वाले मुख्य मार्ग पर स्थित उक्त गांव में पिछले कई वर्षों से सड़क पर घुटने भर पानी जमा हो जाता है। सड़क भी गड्ढे में तब्दील हो गई है, जिससे पैदल गुजरना भी मुश्किल गया है। जलजमाव के चलते पचासों गांव के ग्रामीणों को आवागमन में दुश्वारियां झेलनी पड़ती हैं। लोगों को उम्मीद थी कि विधानपरिषद सदस्य का गांव होने से समस्या से निजात मिल जाएगी, लेकिन कुछ नहीं हुआ। देवारा विकास सेवा समिति के नेतृत्व में ग्रामीणों ने मुख्य सड़क पर धान की रोपाई कर जनप्रतिनिधियों को आईना दिखाने का प्रयास किया। वहीं अहरौला में समाजसेवी लक्ष्मी चौबे के नेतृत्व में अहरौला-कप्तानगंज मार्ग पर लंगड़गंज बाजार में धान रोपकर पीडब्ल्यूडी के खिलाफ विरोध जताया गया। पांच साल से यह सड़क बदहाल स्थिति में है। कदम-कदम पर गड्ढों के कारण आवागमन मुश्किल हो गया है। कई अधिकारियों को ज्ञापन देने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो सका। लक्ष्मी चौबे ने बताया कि समस्या का समाधान न होने पर 25 जून को भूख हड़ताल की जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment