.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बैंक कर्मी बन वसूली करने वालों को ग्रामीणों ने दबोचा, दो हिरासत में


पकड़ा गया एक व्यक्ति पूर्व में बैंक से अनुबंधित एक संस्था से जुड़ा रहा था,फिर हटाया गया था

आजमगढ़: बैंक का कर्मचारी बनकर बकाए की वसूली करने वाले दो लोगों को ग्रामीणों ने दबोचकर पुलिस के हवाले कर दिया। दोनों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही थी। पकड़े गए दोनों में से एक बैंक से अनुबंधित एक संस्था से जुड़ा था, लेकिन कुछ दिन पहले संस्था ने उसे निकाल दिया था। उसके बाद भी वह लोगों के यहां पहुंचकर वसूली कर रहा था। मामला सरायमीर थाना क्षेत्र के कौरागहनी गांव से जुड़ा है।यहां यूनियन बैंक आफ इंडिया छित्तेपुर शाखा का कर्मचारी बताकर वसूली करते हुए दो लोगों को पब्लिक ने पकड़कर पुलिस के हवाले किया। ग्रामीणों के अनुसार 15 दिन पूर्व पुरंदरपुर के सुभाष यादव के यहां से दोनों लोगों ने तीन हजार की वसूली की थी, जबकि उन्होंने 10 लाख का लोन लिया है। उन्होंने इसकी जानकारी बैंक मैनेजर को दी तो मैनेजर सकते में आ गए। अभी मैनेजर कुछ समझ पाते कि तीन दिन पूर्व मीना चौहान के यहां से तीन हजार वसूली की गई। मीना ने भी बैंक में आकर जानकारी दी। बुधवार को कौरा गहनी के सुनील कुमार के यहां भी दोनों वसूली करने पहुंचे, तो सुनील ने बैंक को सूचना दी। मैनेजर ने कहा कि दोनों को घर पर रोकिए, मैं आ रहा हूं। उसके बाद बैंक मैनेजर को देखते ही वसूली करने गए दोनों भागने लगे, जिन्हें ग्रामीणों ने दौड़ाकर पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया। इस संबंध में बैंक मैनेजर कपिल भजन ने बताया कि पकड़े गए लोगों में एक पहले बैंक की वसूली एक प्राइवेट संस्था के माध्यम से करता था। वहां से निकाल दिए जाने के बाद भी लोगों से पैसा वसूलकर रख ले रहा है। इंस्पेक्टर सरायमीर अनिल कुमार सिंह ने बताया कि मामले की जांच चल रही है। फिलहाल किसी ने तहरीर नहीं दी है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment