.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: साइबर ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग का सदस्य बिहार से गिरफ्तार


फर्जी वेबसाइटों के जरिए जनसेवा केन्द्र दिलाने के नाम पर खातों में मंगाते थे रकम

आजमगढ़: साइबर थाना द्वारा ग्राहक सेवा केन्द्र रजिस्ट्रेशन की फर्जी वेबसाइट बनवाकर धोखे से लोगों के खाते से लाखो रूपया जमा कराकर साइबर ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग का पर्दाफाश करते हुए गैंग के एक सदस्य को गिरफ्तार कर लिया। 
बता दें कि पवई थाना क्षेत्र निवासी संदीप कुमार ने साइबर क्राइम थाने को सूचना दिया था कि साइबर ठगों ने फर्जी वेबसाइटों के माध्यम से ग्राहक सेवा केन्द्र खोलने हेतु एसबीआई खाते में 221600 रूपये जमा करा दिए हैं। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दिया। इसी क्रम में प्रभारी साइबर थाना निरीक्षक राजेश यादव द्वारा अपनी टीम सहित मामले छापेमारी कर 17 जून को नालंदा बिहार से अभियुक्त रमेंश कुमार पुत्र गनौरी राम निवासी ग्राम अन्दी थाना अस्थांवा जिला नालन्दा बिहार को गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान अंधेरे का फायदा उठाते हुए अन्य बदमाश फरार हो गये।
पूछताछ के दौरान अभियुक्त रमेश कुमार ने बताया कि वह और उसके गैंग के सदस्य कोलकाता के डीलरो से बनी हुई फर्जी वेबसाईट 30,000 रुपये महीने किराये पर लेते है जिस पर अपना नम्बर कस्टमर केयर के लिए फीड कराते है। जब लोग वेबसाईट पर जाकर ग्राहक सेवा केन्द्र (सीएसपी) लेने के लिए रजिस्ट्रेशन एंव काल करते है तो रजिस्ट्रेशन शुल्क एंव सीएसपी की लिमिट बढाने के नाम पर लोगो से अपने विभिन्न बैंक खातो में पैसा जमा कराकर साइबर ठगी को अंजाम देते हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment