.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: शराब कांड में सफेदपोशों की भूमिका परख रही पुलिस


तथ्यों से सच्चाई तक पहुंचने में की कवायद तेज, दो बड़े नेताओं पर कस सकता है शिकंजा
 

क्लू मिल रहे लेकिन ठोस सबूत की तलाश में जुटे है - सुधीर कुमार सिंह, एसपी

आजमगढ़ : जहरीली शराब कांड में कार्रवाई तेज हो गई है। पुलिस तथ्यों के सहारे सच्चाई तक पहुंचने को पसीना बहा रही है। अवैध शराब के तीन गोदामों से बरामद हुई करोड़ों की शराब बनाने की सामग्री से सफेदपोशों के शामिल होने की आशंका गहरा गई है। पकड़े गए लोगों से पूछताछ में पुलिस को क्लू भी मिले हैं। इसके बावजूद उनके गिरेबां पर हाथ डालने से पूर्व ठोस सबूत जुटा रही, ताकि सफेदपोश समाज में सलाखों के पीछे पहुंचाया जा सके। शुरुआती जांच में दो बड़े नेताओं की भूमिका सामने आ रही है। जांच यूं ही ईमानदारी से बढ़ती रही तो खाकी, सफेदपोश और सियासत की गठजोड़ उजागर हो जाएगी।
जहरीली शराब से हुई मौतों पर पहले दिन तो पुलिस ने पर्दा डालने की कोशिश की। लेकिन गरीबों के घरों में मचे कोहराम के बाद सवाल उठना शुरू हुआ तो हुक्मरानों की तंद्रा टूटी। दरअसल, बेगुनाहों के मौतों से सरकार भी अनजान नहीं रह सकी। पुलिस ने जांच शुरू की तो सच्चाई सामने आने लगी। जहरीली शराब से हुई मौतों की शुरुआत अंबेडकर नगर से शुरू हुई तो वहां के अधिकारियों ने जांच तेज कर दी। आजमगढ़ पुलिस भी जांच शुरू की तो अवैध शराब के कारोबारियों पर शिकंजा कसने लगा। पुलिस ने पवई थाने में तैनात एक सिपाही अविनाश समेत चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजी। उसके बाद पुलिस पेंच को जितना सुलझा रही, मामला उतना ही उलझता जा रहा है। अवैध शराब का एक और कारोबारी अजय गिरफ्तार हुआ तो उसकी निशानदेही पर करोड़ों की शराब बनाने की सामग्री बरामद हो गई। इसके बाद पुलिस को समझ आ गया कि सफेदपाेशों के शामिल हुए बगैर इतना बड़ा रैकेट चलाना आसान नहीं है। ऐसे में जांच की दिशा बदलते हुए पुलिस ने सर्विलांस का सहारा लिया है। संदिग्ध सपेदपोशों तक पहुंचने की कवायद तेज हो गई है। पुलिस के बड़े अधिकारी दबी जुबान सफेदपोश बड़े नेताओं के नाम भी लेने लगे हैं। हालांकि, सबूत हाथ आने से पूर्व तक कुछ भी अधिकृत बयान देने से बच रहे हैं। 
एसपी आज़मगढ़ सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि अवैध शराब के कारोबार में सफेदपोशों की भूमिका से इंकार नहीं किया जा सकता है। हम तथ्यों के सहारे सच्चाई तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। सर्विलांस की भी मदद ली जा रही है। अवैध शराब के कारोबार से जुड़ा कोई व्यक्ति बच नहीं पाएगा। जांच में सभी बिंदुओं पर गौर फरमाया जा रहा है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment