.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बेलगाम हो रहा है कोरोना, बचाव के उपाय बेहद सीमित


वक्त रहते टीकाकरण अभियान का हिस्सा नहीं बनना कोरोना का कहर बढ़ाएगा

टीका लगवाने में लापरवाही समाज को किसी बड़ी मुसीबत में ढकेलने जैसा - सीएमओ

आजमगढ़: धीरे-धीरे कोरोना की रफ्तार बेलगाम होती जा रही है। ऐसे में बचाव के उपाय बेहद सीमित हैं। जिनमें सबसे महत्वपूर्ण टीकाकरण अभियान को तेजी से बढ़ाना है। जागरूकता के बावजूद जिले में 45 वर्ष के ऊपर के लक्ष्य 2,40,000 के सापेक्ष में मात्र 89,339 लोगों ने ही कोविड टीकाकरण पंजीकरण करवाया। मात्र 85,944 लोगों ने ही टीका की प्रथम खुराक ली है, जो की दूसरी खुराक तक बेहद कम हो कर सिर्फ 2124 तक सीमित रह गई है। यह आंकड़े बेहद डरावने एवं हमारे समाज को किसी बड़ी मुसीबत में ढकेलने जैसे हैं। जिसकी जवाबदेही उन सभी लोगों की होगी, जिन्होंने या तो टीका लगवाया नहीं या फिर दूसरी डोज तक आते-आते लापरवाही कर दिए। ध्यान रहे यदि जिले में कोरोना का कहर बढ़ेगा, तो उसकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी एवं उत्तरदायित्व उन्हीं लोगों का होगा, जिन्होंने वक्त रहते टीकाकरण अभियान का हिस्सा नहीं बनना चाहा।
सीएमओ डा. एके मिश्रा ने बताया आज भी 45 वर्ष से ऊपर के 157,528 लोगों ने कोविड टीका नहीं लगवाया है। जबकि स्वास्थयकर्मियों ने 20,754 के सापेक्ष 17,022 प्रथम डोज एवं 10569 द्वितीय डोज ली। अन्य विभागों के फ्रंटलाइन कर्मियों ने 17,057 के सापेक्ष 13,922 प्रथम डोज और 7375 द्वितीय डोज लगवाया। कहा कि आंकड़े लापरवाही एवं संवेदनहीनता के द्योतक हैं। क्योंकि इन आंकड़ों में सभी जागरूक समाज है, वे या तो सरकारी तंत्र से जुड़ा कर्मी है या फिर 45 वर्ष से ऊपर का प्रौढ़ हो चुका देश का जिम्मेदार नागरिक है। ऐसे में इन्हें खुद ही समझना होगा और शीघ्रताशीघ्र अपने किसी नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंच कर जल्द से जल्द निश्शुल्क टीका लगवा लेना चाहिए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment