.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: लालगंज में बैलट बाक्‍स में डाला पानी, 02 बूथ का चुनाव रद


लालगंज के सरूपहा गांव में अराजक तत्वों ने बैलट बाक्‍स में डाला पानी

मेंहनगर में मतदान पर लगी पुलिस टीम पर हुआ पथराव

आजमगढ़: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए जिले में सोमवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू हो गया था। निर्धारित समय से मतदान शुरू कराने के लिए निर्वाचन से जुड़े अधिकारी सुबह छह बजे से ही बूथों की तैयारिया जानने दौड़ने लगे थे। दरअसल जनपद में कुल 2064 मतदान केंद्रों पर बनाए गए 6229 मतदेय स्थलों पर हैं, जिसमें करीब 3720084 मतदाताओं को वोट करना है। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मतदाताओं की थर्मल स्कैनिंग की जा रही थी। मेंहनगर तरवा थाना क्षेत्र के बिशुनपुर मठिया में दोपहर 12:30 बजे प्राथमिक विद्यालय पर प्रत्याशी सहित समर्थक आमने-सामने हो गए। गाली गलौज के साथ ही मामला मारपीट में बदल गया। जिसमें प्रत्याशी राम प्रसाद चौहान घायल और उनकी पत्नी सहित कई समर्थक भी घायल हो गए। करीब 35 से 40 मिनट तक मतदान प्रभावित रहा। सूचना पर जोनल मजिस्ट्रेट/उपजिलाधिकारी प्रियंका प्रियदर्शिनी, सीओ लालगंज ने मौके पर पहुंचकर जायजा लिया और मतदान पुनः शुरू कराया। 
लालगंज ब्लाक के सरूपहा गांव में बूथ कैप्चरिंग की सूचना पर अराजकतत्वों ने मत पेटिका में पानी डाल दिया। बूथ कैप्चरिंग की सूचना पर दो गुट के लोग आमने-सामने हुए थे। नोकझोंक के बाद एक गुट के लोगों ने मत पेटिका में पानी डाल दिया। इस दौरान सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी मूकदर्शक बने रहे। उपद्रवियों के भागने के बाद क्लस्टर मोबाइल दस्‍ता पहुंचा। मत पेटिका में पानी पड़ने के बाद प्रशासन ने चुनाव को रद कर दिया। यहां पर प्रधान पद के आठ, क्षेत्र पंचायत सदस्य के सात और जिला पंचायत सदस्य के 14 प्रत्याशी मैदान में थे। बैलट बॉक्स में पानी डालने की खबर पर एसडीएम पंकज श्रीवास्तव सीआरपीएफ के साथ पहुंचे और जायजा लिया।तहबरपुर थाने के मधसिया गांव में मतदान के दौरान पोलिंग बूथ पर सुबह 10 बजे कुछ युवकों की पुलिस से झड़प हो गयी। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस दो युवको को थाने उठा ले गयी। इसके बाद मतदान शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है। मेंहनगर थाना क्षेत्र के ग्राम सभा भड़सारी बूथ पर समय करीब 9.30 बजे मतदान पर लगे पुलिस कर्मी संजय व अन्य पुलिस कर्मी ने प्रत्याशी समर्थकों सहित अन्य लोगों से 200 मीटर की दूरी पर रहने को कहा। जिसकी बात ग्रामीणों को नागवार लगी, इसी बात को लेकर लोग पुलिस पर ईंट पत्थर चलाने लगे। मामले को शांत करने का प्रयास किया जाता तबतक लाठियां भांजते हुए पुलिस वालों ने किसी तरह अंदर भाग कर जान बचाई। इसकी जानकारी थाना प्रभारी निरीक्षक सुनील चंद तिवारी को देते हुए उच्च अधिकारियों को कराया। सूचना के क्रम में जोनल मजिस्ट्रेट / एसडीएम मेंहनगर प्रियंका प्रियदर्शिनी, सीओ लालगंज मनोज रघुवंशी, पीएसी बल ने पहुंच कर लाठियां भांजी जिसमें दर्जनों लोगों को हिरासत में लिया गया है। पूरे गांव में पीएसी बल तैनात कर दी गई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment