.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बिना मास्क लगाये 05 कर्मचारियों पर 5-5 सौ रुपये का जुर्माना लगा


कमिश्नर ने अपने कार्यालय भवन में स्थापित कार्यालयों का किया औचक निरीक्षण

आजमगढ़ - मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने वर्तमान समय में तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षा के दृष्टिगत वृहस्पतिवार को अपने कार्यालय भवन स्थित समस्त कार्यालयों की साफ सफाई, सेनेटाइज़िंग व्यवस्था, कर्मचारियों द्वारा मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिन्ग सहित कोविड-19 की गाइड लाइन से सम्बन्धित अन्य बिन्दुओं के अनुपालन का औचक निरीक्षण किया गया। इस दौरान मण्डलायुक्त कार्यालय सहित अन्य कार्यालयों में कुल 5 कर्मचारी बिना लगाये कार्य करते पाये गये। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने इस स्थिति सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए उन सभी 5 कर्मचारियों पर 5-5 सौ रुपये जुर्माना आरोपित करते हुए उनके वेतन से उक्त धनराशि की कटौती कर सम्बन्धित राजगीय कोष में जमा कराने हेतु सम्बन्धित आहरण वितरण अधिकारियों को निर्देशित किया।
मण्डलायुक्त श्री पन्त द्वारा किये गये निरीक्षण में जहाॅं उनके कार्यालय में 2 कनिष्ठ सहायक एवं एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी बिना मास्क के ड्यूटी पर पाये गये वहीं सहायक आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के कार्यालय एवं उप निदेशक, राष्ट्रीय बचत के कार्यालय में एक-एक कर्मचारी बिना मास्क लगाये ड्यूटी पर पाये गये। उन्होंने इस स्थिति पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यालय में स्थापित मण्डलीय कोविड कन्ट्रोल रूम के पब्लिक एड्रेस सिस्टम द्वारा एवं अन्य प्रचार माध्यमों से एक वर्ष से अधिक समय से निरन्तर मास्क का प्रयोग, सोशल डिस्टेन्सिंग के अनुपालन आदि के प्रति सजग किया जा रहा है। बावजूद इन कर्मचारियों द्वारा कोविड-19 की गाईड लाइन की अवहेलना करते हुए बिना मास्क लगाये कार्य करने से स्पष्ट होता है कि इन कर्मचारियों द्वारा प्रोटोकाल का उल्लंघन किये जाने के साथ ही कोरोना वायरस जैसी महामारी से स्वयं के साथ ही अन्य लोगों की सुरक्षा के प्रति भी उदासीनता एवं लापरवाही बरती गयी है, जो एक गंभीर मामला है। उन्होंने निर्देश दिया कि इन कर्मचारियों द्वारा कोविड-19 के सम्बन्ध में जारी गाईड लाइन एवं समय-समय पर निर्गत शासनादेशों का उल्लंघन किया गया है, इसलिए भविष्य के प्रति सजग करने हेतु रू0 500-500 प्रति कर्मचारी से जुर्माने के तौर पर उनके वेतन से कटौती करते हुए समबन्धित राजकीय कोष में जमा कराया जाय। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने इसी क्रम में समस्त कार्यालयाध्यक्षों को निर्देश दिया है कि वे अपने अधीनस्थ अधिकारियों एवं कर्मचारियों में मास्क एवं सेनेटाइज़र का प्रयोग हर हालत में सुनिश्चित करायें। उन्होंने आगाह किया कि उनके द्वारा नियमित रूप से कार्यालयों का निरीक्षण किया जायेगा। निरीक्षण में किसी भी दशा में गाइड लाइन के अनुपालन मे शिथिलता और लापरवाही नहीं मिलनी चाहिए। निरीक्षण के समय अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, प्रशासनिक अधिकारी अरुण कुमार त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment