.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: नोटिस तामिला कराने गई पुलिस पर मारपीट,तोड़फोड़ का आरोप


महराजगंज थाना क्षेत्र के गोंदापुर गांव में शनिवार की शाम को गुंडा एक्ट में पाबंद लोगों के घर पंहुचीं थी पुलिस

आजमगढ़ : महराजगंज थाना क्षेत्र के गोंदापुर गांव में शनिवार की शाम पुलिस पर कहर बरपाने का आरोप लगा है। आरोप है कि गुंडा एक्ट में पाबंद लोगों के घर नोटिस तामीला कराने गई पुलिस ने आरोपितों के न मिलने पर घरों में तोड़फोड़ की और उसका विरोध करने पर इतनी लाठियां बरसाईं कि पांच लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। पुलिस ने महिलाओं को भी नहीं छोड़ा और चार जख्मी महिलाओं को भी अस्पताल पहुंचाना पड़ा। घरों के सीमेंटेड शीट, बोलेरो का शीशा, कुर्सियां तथा दरवाजे तोड़ दिए। इस मामले में पुलिस भी सफाई देने में पीछे नहीं रही, पुलिस के अनुसार गुंडा एक्ट में पाबंद लोगों के घर नोटिस तामीला के लिए पुलिस गांव में गई थी कितु गांव में मौजूद महिलाएं पुलिस पर हमलावर हो गईं थी जिससे पुलिस बल को सख्ती बरतनी पड़ी। हालांकि लाठीचार्ज और तोड़फोड़ के बारे में स्थिति स्पष्ट नही हुई । शनिवार को गांव में शाम पांच बजे स्थानीय पुलिस गुंडा एक्ट के तहत पाबंद किए गए लोगों के घर नोटिस तमीला के लिए गई थी। आरोपितों के न मिलने पर कई घरों में तोड़फोड़ की तथा जो आरोपित नहीं थे उनके घरों की महिलाओं को भी लाठी का निशाना बनाया गया। पुलिस की कार्रवाई में चार महिलाओं समेत पांच लोग गंभीर रूप से घायल बताये जा रहे हैं । ग्रामीणों के अनुसार बीते वर्ष चार मार्च को हुई ग्राम प्रधान के भाई ओंकार दुबे की हत्या के मामले में कुल 19 लोगों को आरोपित बनाया गया था। उसमें कुछ लोग जमानत पर हैं तथा बाकी जेल में। हत्या में वांछित सूरज पुत्र जयराम, परविदर पुत्र कन्हैया, दसई पुत्र तूफानी व रामचरन पुत्र रामप्यारे को गुंडा एक्ट में पाबंद किया गया है। जानकारी के अनुसार पुलिस कार्रवाई में रंजना पत्नी अरविद (35), पुष्पा पत्नी रामायन (45), प्रिया पुत्री रामायन (18) व प्रियंका पुत्री दसई (18) तथा राहुल पुत्र रामकरन (23) घायल हुए हैं। इस मामले में थानाध्यक्ष ने बताया कि गांव के चार लोगों को गुंडा एक्ट में पाबंद किया गया है। नोटिस तामीला के लिए पुलिस गांव में गई थी कितु गांव में मौजूद महिलाएं पुलिस पर हमलावर हो गईं। सूचना पर पहुंचे पुलिस बल को सख्ती बरतनी पड़ी। हालांकि, पुलिस टीम पर हमले के संबंध में मुकदमा अब तक पंजीकृत नहीं किया गया है और न ही किसी को गिरफ्तार किया गया। घायल महिलाओं के बारे में जानकारी से इंकार कर दिया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment