.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: भव्य रूप से मनाई गई महाराजा सुहेलदेव की जयंती




अधिकारियों व आमजन ने सुना प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का सम्बोधन

सांस्कृतिक कार्यक्रमों ने आयोजन को और भव्य बनाया

आजमगढ़ 16 फरवरी-- महाराजा सुहेलदेव जयंती के अवसर पर शहीद कुंवर सिंह स्मारक उद्यान, सिविल लाइन आजमगढ़ में भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर सुर साधना संगीत एकेडमी, श्री अग्रसेन कन्या इण्टर कालेज आजमगढ़, राजकीय बालिका इण्टर कालेज आजमगढ़ द्वारा समूह गायन एवं पवन पाण्डेय, सदानन्द शर्मा ‘सन्नी’, राजनाथ यादव, महिमा बागेश्वरी, आंकाक्षा सिंह द्वारा एकल गायन एवं प्रियांशु सोनकर द्वारा कत्थक नृत्य की प्रस्तुति की गयी। 11वीं शताब्दी के प्रतापी शासक एवं पराक्रमी योद्धा महाराजा सुहेलदेव की जयंती के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  द्वारा नई दिल्ली से महाराजा सुहेलदेव स्मारक एवं चित्तौरा झील (बहराइच) की विकास योजना का शिलान्यास व महाराजा सुहेलदेव स्वशासी राज्य चिकित्सा महाविद्यालय, बहराइच का लोकार्पण वर्चुअल माध्यम से बटन दबाकर किया गया। जिसका सजीव प्रसारण सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की एलईडी वैन के माध्यम से किया गया। प्रधानमंत्री ने बसंत पंचती की सभी को शुभकामनाएं दी। उन्होने कहा कि महाराजा सुहेलदेव के नाम से बने मेडिकल कालेज को एक नया भवन भी मिला है, यह बहराइच के लोगों के जीवन को आसान बनायेगा, इसका लाभ आस-पास के जनपद श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर के साथ ही नेपाल से आने वाले मरीजों को भी लाभ मिलेगा। उन्होने कहा कि महापुरूषों का त्याग, उनकी तपस्या, उनका संगम, उनकी वीरता, सहादत का स्मरण करना व उनसे प्रेरणा प्राप्त करना इससे बड़ा कोई अवसर नही होगा। उन्होने कहा कि चौरी-चौरा के वीरों के साथ जो हुआ वह भूलने योग्य नही है। महाराजा सुहेलदेव और भारतीयता की रक्षा के लिए अनेक प्रयासों के साथ भी यही व्यवहार किया गया। इतिहास की किताबों में भले ही उनके शौर्य, पराक्रम व उनकी वीरता को वह स्थान नही मिला, लेकिन अवध और तराई से लेकर पूर्वांचल की लोक कथाओं व हृदय में वे हमेशा बने रहे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने (चित्तौरा, बहराइच से) वर्चुअल माध्यम से कहा कि बहराइच के लिए आज अहम दिन है, आज से लगभग 1,000 वर्ष पूर्व विदेशी आक्रांता से इस धरती को पूरी तरह से सुरक्षित करने के लिए शौर्य और पराक्रम का प्रदर्शन इस धरती पर करने वाले धर्मरक्षक, राष्ट्रनायक महाराजा सुहेलदेव की पावन जयंती का कार्यक्रम भी है। आज से 04 वर्ष पूर्व एक मेडिकल कॉलेज, बहराइच क्षेत्र की आरोग्यता के लिए दिया गया था, वह बनकर तैयार हो गया है। इसका नाम भी हमने महाराज सुहेलदेव के नाम पर ही रखा है। इस अवसर पर मण्डलायुक्त विजय विश्वास पंत, प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार शुक्ला, पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन नरेन्द्र सिंह, पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक सुधीर जायसवाल, ज्वाइण्ट मजिस्ट्रेट/ एसडीएम सदर गौरव कुमार आईएएस, सीओ सदर सिद्धार्थ तोमर, डीआईओएस डॉ0 वीके शर्मा, उपायुक्त उद्योग प्रवीण कुमार मौर्य, बीएसए अम्ब्रीश कुमार, एसडीएम सगड़ी न्यायिक धीरज श्रीवास्तव, अधिशासी अधिकारी नगर पालिका आजमगढ़ शुभनाथ प्रसाद एवं प्रशासनिक अधिकारी ज्ञानेन्द्र मिश्रा द्वारा प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री  का उद्बोधन सुना गया। इसके पश्चात महाराजा सुहेलदेव जयंती के अवसर पर आयोजित समारोह का समापन हुआ। 
मंच का संचालन रंगकर्मी सुनीलदत्त विश्वकर्मा द्वारा किया गया।
इसी के साथ ही आज सायं 5ः30 बजे से 6ः00 बजे तक कुंवर सिंह स्मारक उद्यान सिविल लाइन आजमगढ़ में पीएससी बैण्ड द्वारा राष्ट्रधुन तथा राष्ट्रभक्ति गीतों पर बैण्ड वादन किया जायेगा। सायं 6ः30 बजे कुंवर सिंह शहीद स्मारक स्थल पर दीप प्रज्ज्वल का कार्यक्रम किया जायेगा। 
इस अवसर पर श्री अग्रसेन कन्या इण्टर कालेज आजमगढ़, राजकीय बालिका इण्टर कालेज आजमगढ़, नवीन सरस्वती इण्टर कालेज कोलबाजबहादुर, प्रतिभा निकेतन इण्टर कलेज अतलस पोखरा के अध्यापक/अध्यापिकाएं एवं छात्र/छात्राएं, एनएसएस, एनसीसी, स्काउट गाइड के छात्र/छात्राएं उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment