.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ एसपी को सिल्वर, गोल्ड के बाद अब मिला प्लेटिनम अवार्ड


कानून-व्यवस्था पर बेहतर कार्य करने पर मिला पुरस्कार

पंचायत चुनाव में गुंडागर्दी व अपराध के बल पर कुर्सी हासिल करने के मंसूबे कामयाब नही होंगे- सुधीर कुमार सिंह, एसपी

आजमगढ़ : आजमगढ़ के एसपी सुधीर कुमार सिंह को कानून-व्यवस्था बेहतर करने के लिए शासन स्तर से उन्हें गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्लेटिनम अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। इसके पूर्व उन्हें सिल्वर व गोल्ड अवार्ड मिल चुका है। 
बिजनौर जिले के मूल निवासी व वर्ष 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी सुधीर कुमार सिंह (58) एमए इकोनामिस की शिक्षा हासिल की है। उन्होंने 16 अगस्त 2020 को जिले में एसपी का पद संभाला था। इसके पूर्व वे एसपी साइबर लखनऊ के अलावा बलरामपुर, गोंडा, अंबेडकर नगर, अमरोहा, गाजियाबाद, मुजफ्फर नगर समेत अन्य जिलों में तैनात रह चुके हैं। 15 अगस्त 2018 को उन्हें पहला पदक सिल्वर मिला। इसके बाद 15 अगस्त 2019 को उन्हें एक और पदक गोल्ड मिला। आज़मगढ़ में लगभग पांच माह माह के उनके कार्यकाल के दौरान पुलिस व अपराधियों के बीच तकरीबन 80 मुठभेड़ हुई। जिसमें 18 अगस्त को तरवां क्षेत्र के बांसगांव में ग्राम प्रधान सत्यमेव जयते हत्याकांड के मुख्य आरोपित व तीन लाख रुपये के इनामी अपराधी सूर्यांश दूबे को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया। जबकि 10 अपराधी पुलिस की गोली से घायल हुए। पुरस्कार घोषित 20 अपराधी को पुलिस ने गिरफ्तार किया। मुठभेड़ में लगभग पांच सौ अपराधियों को पुलिस ने पकड़ा। वहीं साढ़े पांच सौ अपराधियों के खिलाफ पुलिस ने गैंगेस्टर, गुंडा एक्ट समेत अन्य निरोधात्मक कार्रवाई कर उन्हें जेल की सलाखों के पीछे भेजा। इसके अलावा काफी संख्या में पशु तस्कर, शराब, गांजा, असलहा तस्करों के खिलाफ पुलिस ने कार्रवाई की। एसपी सुधीर कुमार सिंह ने कहा कि पंचायत चुनाव में जो अपराधी व माफिया अपने गुंडागर्दी व अपराध के बल पर प्रधान,जिला पंचायत सदस्य समेत अन्य पदों की कुर्सी हासिल करने के मंसूबे पाल रखे हैं उनके मंसूबे कामयाब नहीं होने दिया जाएगा। अपराधियों के खिलाफ मिल रहे इनपुट के आधार पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment