.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: हुनर रंग महोत्सव : तफ्तीश नाटक के माध्‍यम से सामाजिक शोषण पर की गहरी चोट


तीन दिवसीय हुनर रंग महोत्सव का शानदार समापन हुआ

आजमगढ़: शहर के प्रतिभा निकेतन स्कूल के रंग ग्राम में हुनर संस्थान द्वारा आयोजित तीन दिवसीय हुनर रंग महोत्सव का शानदार समापन सोमवार को हुआ। राक स्टार डांस अकादमी मीरजापुर की आधुनिक समूह नृत्य की प्रस्तुति सराहनीय रही। उसके बाद शुरू हुआ नाटकों का मंचन। ड्रामाटर्जी आर्ट एंड कल्चर सोसायटी दिल्ली द्वारा राजेश कुमार लिखित व सुनील चौहान निर्देशित नाटक तफ्तीश का सशक्त मंचन किया गया। राजेश कुमार द्वारा लिखित ये नाटक तफ्तीश समाज के ऊपर गहरी चोट करता है। एक विशेष समुदाय को किसी आतंकी गिरोह से जोड़कर जिस प्रकार उसका शोषण किया जाता है। उसी के इर्द-गिर्द नाटक केंद्रित रहा। दूसरी प्रस्तुति जागरूक सेवा संस्थान बलिया द्वारा भोजपुरी के शेक्सपियर कहे जाने वाले भिखारी ठाकुर की अमूल्य कृति गबर घिचोर थी, जो समाज का वास्तविक चित्रण करता है। मा-बाप द्वारा त्यागने के बाद बेटे के बटवारे को लेकर हो रही उठा-पटक को कलाकारों ने बखूबी निभाया। कार्यक्रम का संचालन संस्थान सचिव सुनील दत्त विश्वकर्मा ने किया।

इन्होंने किया आखिरी रंग संध्या का शुभारंभ

आखिरी दिन की रंग संध्या का शुभारंभ विधायक डा. संग्राम यादव, छाया अग्रवाल , अखिलेश कुमार मिश्र गुड्डू ने सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित व माल्यार्पण कर किया। अथितियों का स्वागत स्वागताध्यक्ष अभिषेक जायसवाल दीनू ,रमाकांत वर्मा, संस्थान अध्यक्ष मंनोज यादव ,वरिष्ठ उपाध्यक्ष्र हेमंत श्रीवास्तव ने अंगवस्त्र, स्मृति चिह्न व पुष्पगुच्छ देकर किया।

इनकी भी रही प्रमुख उपस्थिति

कार्यक्रम में नीरज अग्रवाल, आशीष गोयल, अशोक अग्रवाल, शशि सोनकर, डा. शशिभूषण शर्मा, कमलेश सोनकर, अमरजीत विश्वकर्मा, रवि चौरसिया, आकाश गोंड़, सावन प्रजापति, विकाश सोनकर आदि थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment