.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: दरोगा के खिलाफ दुकानें बन्द कर सड़क पर उतरे व्यापारी


जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र का मामला, एसडीएम व सीओ ने व्यापारियों से की वार्ता

आजमगढ़ : जीयनपुर कोतवाली के एक उपनिरीक्षक के खिलाफ रविवार को व्यापारी सड़क पर उतर गए। व्यापारियों ने दुकानें बंद कर प्रदर्शन व नारेबाजी की। आरोप लगाया कि दारोगा ने दीपावली की रात लगभग नौ बजे जीयनपुर कस्बे के कई व्यापारियों को गालियां दीं। दुकानों को जबरदस्ती बंद करवाया और कई लोगों को मारा-पीटा। इससे आक्रोशित दर्जनों व्यापारी रात में ही कोतवाली में पहुंचकर कोतवाल से दारोगा की शिकायत की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई।
इसकी जानकारी के बाद रविवार को व्यापार मंडल के नेता भी आक्रोशित हो गए और पुलिस से दो-दो हाथ की ठान ली। व्यापारी नेताओं ने बाजार बंदी का एलान किया तो कस्बे की सारी दुकानें धड़ाधड़ बंद हो गईं। व्यापारियों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए बाजार में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद पुलिस के खिलाफ लड़ाई की रणनीति बनाने के लिए जीयनपुर स्थित प्राचीन शिव मंदिर में सुबह 11 बजे बैठक की, जिसमें दारोगा को तत्काल निलंबित करने की मांग की गई। व्यापारियों के आंदोलन की भनक लगते ही उपजिलाधिकारी सगड़ी अरविद कुमार सिंह और पुलिस उपाधीक्षक सगड़ी अजय यादव कोतवाली पहुंचे और कोतवाल से पूरे प्रकरण की जानकारी ली। व्यापारी नेताओं से बातचीत की पहल शुरू की।
एसडीएम की पहल पर व्यापारी कोतवाली पहुंचे। व्यापारियों ने दारोगा की मनमानी कार्रवाई और व्यापारियों के उत्पीड़न की शिकायत की और दरोगा अमरनाथ यादव को तत्काल निलंबित करने की मांग की। इस पर सीओ ने बताया कि अभी एसपी अवकाश पर हैं, तब तक दारोगा का कार्यक्षेत्र बदल दिया जा रहा है। इस पर व्यापारियों ने दो दिन के लिए आंदोलन स्थगित कर दिया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment