.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

"हक की बात जिलाधिकारी के साथ’’ कार्यक्रम में डीएम से रूबरू हुईं किशोरियां व महिलाएं


डीएम के सामने यौन हिंसा, लैंगिक असमानता, घरेलू हिंसा तथा दहेज उत्पीड़न से संबंधित मामले उठाये गए

आजमगढ़ 25 नवंबर-- मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत महिलाओं व बालिकाओं द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में ‘‘हक की बात जिलाधिकारी के साथ’’ थीम पर आधारित आयोजित कार्यक्रम में यौन हिंसा, लैंगिक असमानता, घरेलू हिंसा तथा दहेज उत्पीड़न, बाल श्रम एवं बाल विवाह से संबंधित विषयों पर टेलीफोन एवं पारस्परिक संवाद के माध्यम से बात-चीत की गयी।
इसी क्रम मे थाना दीदारगंज की एक महिला द्वारा बताया गया कि उसके पड़ोसी के लड़के द्वारा उसकी बच्ची के साथ बलात्कार किया गया एवं थाना दीदारगंज में उसकी कोई सुनवाई नही हो रही है, जिस पर जिलाधिकारी राजेश कुमार ने पुलिस अधीक्षक ग्रामीण को निर्देश दिये कि उक्त प्रकरण का निस्तारण प्राथमिकता के आधार पर करना सुनिश्चित करें। 
इसी क्रम में मुबारकपुर की छात्रा द्वारा अवगत कराया गया कि घर से स्कूल जाते समय विभिन्न चैराहों एवं गलियों में लड़कों द्वारा गलत कमेंट किया जाता है, जिस पर जिलाधिकारी ने पुलिस के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये कि मुबारकपुर क्षेत्र के संबंधित विभिन्न चैराहों एवं गलियों में एण्टी रोमियो स्क्वायड की तैनाती करें एवं पुलिस बल को सादे ड्रेस में भी तैनात करें। इसी के साथ ही दलसिंगार कटरे के पास रहने वाली छात्रा द्वारा अवगत कराया गया कि अग्रसेन डिग्री कालेज बदरका के पास में स्कूल जाते समय लड़कों द्वारा कमेंट किया जाता है।
इसी के साथ ही ग्राम कल्याणपुर एवं रौनापार, भंवरनाथ की महिलाओं द्वारा अवगत कराया गया कि उनके परिवार वालों द्वारा घरेलू हिंसा एवं दहेज उत्पीड़न किया जाता है। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त महिलाओं के दोनों पक्षों के परिवारों की काउन्सिलिंग कराकर समस्या का निस्तारण करें।
इसी के साथ ही डीएवी पीजी कालेज की छात्रा द्वारा अवगत कराया गया कि उसके पड़ोस की रहने वाली लड़की की आर्थिक स्थिति सही न होने के कारण आगे नही पढ़ पा रही है, जिस पर जिलाधिकारी द्वारा कहा गया कि उक्त लड़की का बायोडाटा उपलब्ध करायें, उनकी पढ़ाई के लिए आर्थिक मदद की जायेगी। 
इसी क्रम में एक महिला द्वारा अवगत कराया गया कि जाफरपुर स्थित कांशीराम आवास में 2011 में आवास आवंटन हुआ था, जिस पर किसी बाहरी व्यक्ति द्वारा उसके मकान में कब्जा कर लिया गया है, जिस पर जिलाधिकारी ने उक्त महिला को आवश्वासन दिया कि आपके मकान को खाली करा दिया जायेगा।
जिलाधिकारी ने कहा कि हम सभी लोगों को अपने परिवार में लड़कों व लड़कियो को बढ़ा कर परिवेश देने की जरूरत है, उनमे भेदभाव न करें, माता-पिता लड़कों से भी घर का कार्य करायें, जिससे उनके मानसिक स्तर में लड़कियों के प्रति सम्मानजनक विचार उत्पन्न हो। इसी के साथ ही जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि कहीं भी भू्रण हत्या की सूचना मिलती है तो उसकी सूचना तत्काल दें। 
इस अवसर पर जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव, जिला सूचना अधिकारी डाॅ0 जितेन्द्र प्रताप सिंह, महिला कल्याण अधिकारी प्रिती उपाध्याय एवं वन स्टाॅप सेन्टर, 181 महिला हेल्प लाइन के स्टाफ सहित अन्य महिलाएं/बालिकाएं उपस्थित रहीं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment