.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: मण्डलायुक्त एवं अपर आयुक्त ने किया कार्यालयों का औचक निरीक्षण



एक अधिकारी, 5 प्रवक्ता सहित दो दर्जन से अधिक मिले अनुपस्थित, एक कर्मचारी को निलम्बित किया


अनुपस्थित लोगों का एक दिन का वेतन रोका व स्पष्टीकरण मांगा, बीएसए को कड़ी चेतावनी, प्राचार्य डायट से भी  स्पष्टीकरण तलब

आज़मगढ़ 24 नवम्बर -- मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त एवं अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र ने शासकीय कार्यालयों में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की समय से उपस्थिति एवं कार्यालयों की साफ सफाई सुदृढ़ करने हेतु मंगलवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय एवं डायट (जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान) के साथ ही कई मण्डलीय कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान एक मण्डलीय अधिकारी, 5 प्रवक्ता सहित दो दर्जन से अधिक कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने बड़ी संख्या में पाई गयी अनुपस्थिति पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का एक दिन का वेतन रोकने के साथ ही उनसे स्पष्टीकरण प्रस्तु करने का निर्देश दिया। इसके अलावा बीएसए कार्यालय में पाई गयी कई अनियमितताओं पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को कड़ी चेतावनी निर्गत करने के साथ ही उनसे स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। इसी प्रकार डायट के निरीक्षण में जहाॅं कई अनियमितता मिलने के कारण प्राचार्य पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उनसे स्पष्टीकरण तलब किया, वहीं एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी द्वारा मौके पर की गयी अनुशासनहीनता पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए उक्त कर्मचारी को निलम्बित करने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त द्वारा पूर्वान्ह में डायट के निरीक्षण में प्रवक्ता अरविन्द कुमार मौर्या, महेन्द्र कुमार यादव, सत्येन्द्र प्रताप, डा.पुनीत कुमार मौर्य, देवव्रत साहू, सहायक अध्यापक सन्दीप कुमार सिंह, योगेन्द्र प्रसाद यादव, अरुण कुमार सिंह तथा तीन कनिष्ठ सहायक अनुपस्थित थे, जिनका एक दिन का वेतन रोकने व इन सभी से स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया। इसके अलावा प्रवक्ता वीरेन्द्र प्रताप, आशुतोष कुमार श्रीवास्तव एवं तीन कर्मचारियों द्वारा उपस्थिति रजिस्टर पर हस्ताक्षर बनाया गया था परन्तु ये लोग मौके पर नहीं थे। मण्डलायुक्त द्वारा पूछे जाने पर अवगत कराया गया कि ये लोग चेकिंग हेतु गये हैं, परन्तु किनके निर्देश पर और कहाॅं चेकिंग के लिए गये हैं, इस सम्बन्ध में न तो कोई जानकारी दी गयी और न ही कार्यालय में चेकिंग को कोई चार्ट ही उपलब्ध कराया गया। मण्डलायुक्त ने इस स्थिति पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए डायट के प्राचार्य को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने तथा चेकिंग का चार्ट तत्काल बनाये जाने हेतु निर्देशित किया। डायट में निरीक्षण के समय उपस्थित कर्मचारियों के सम्बन्ध में पूछे जाने पर कक्ष के बाहर से वहाॅं कार्यरत परिचारक गंगा प्रसाद सिंह द्वारा बार बार स्वयं को वही कर्मचारी बताया जा रहा था जिसके उपस्थित रहने के बारे में पूछा जाता था। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने इस स्थिति पर सख्त नाराजगी व्यक्त करते हुए इसे घोर अनुशासनहीनता तथा उच्च अधिकारी को दिग्भ्रमित करने वाला अपकृत्य मानते हुए परिचारक गंगा प्रसाद सिंह को तत्काल निलम्बित करने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त द्वारा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय के निरीक्षण में एक कर्मचारी अनुपस्थित पाया गया, एक कर्मचारी हस्ताक्षर बनाने के बाद अनुपस्थित था, एक कर्मचारी का अवकाश अंकित नहीं कराया गया था, जबकि एक अन्य कर्मचारी जो गत दिवस अनुपस्थित थीं परन्तु उनके स्थान पर एक अन्य कर्मचारी द्वारा हस्ताक्षर बनाया गया था। इसके अलावा कार्यालय तथा परिसर की साफ सफाई भी काफी खराब थी। इन अनियमितताओं पर मण्डलायुक्त ने असन्तोष व्यक्त करते हुए बीएसए को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया। 
अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र द्वारा मण्डलीय कार्यालयों के आकस्मिक निरीक्षण के दौरान जहाॅं उप निदेशक, महिला कल्याण आंेकारनाथ यादव अनुपस्थित थे, उप निदेशक अर्थ एवं संख्या कार्यालय में अपर सांख्यिकी अधिकारी, उप निदेशक, मत्स्य कार्यालय में प्रधान सहायक, संयुक्त आयुक्त सहकारिता कार्यालय में एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, अधीक्षण अभियन्ता आरईडी कार्यालय में आशुलिपिक एवं अपर निदेशक पशुपालन कार्यालय में कनिष्ठ सहायक अनुपस्थित पाये गये। इसी प्रकार संयुक्त विकास आयुक्त कार्यालय में एक वरिष्ठ सहायक, एक कम्प्यूटर आपरेटर व तीन चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, सहायक निदेशक, क्षेत्रीय सेवायोजना कार्यालय में दो वरिष्ठ सहायक एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी भी अनुपस्थित थे।मण्डलायुक्त श्री पन्त ने कहा कि कार्यालयों में अधिकारियों एवं कर्मचारियों की समय उपस्थित अनिवार्य करने हेतु निरन्तर निरीक्षण किया जायेगा। उन्होंने निरीक्षण में पाये गये सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों का एक दिन वेतन रोकने के साथ ही सभी अनुपस्थितों को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment