.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई गई सरदार पटेल की जयंती


राष्ट्र की एकता, अखंडता और सुरक्षा बनाये रखने की ली गईं शपथ

आजमगढ़ 31 अक्टूबर-- जिलाधिकारी के निर्देशन में मुख्य राजस्व अधिकारी हरी शंकर द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में सरदार वल्लभ भाई पटेल जयंती एवं बाल्मिकी जयंती के अवसर पर सरदार वल्लभ भाई पटेल व महर्षि बाल्मिकी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया गया। 
मुख्य राजस्व अधिकारी द्वारा अपर जिलाधिकारी प्रशासन व अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 की उपस्थिति में विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सामूहिक रूप से सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्म दिवस को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाए जाने के सम्बन्ध में शपथ दिलाई गई। 
मुख्य राजस्व अधिकारी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल के जन्म दिवस को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाए जाने के सम्बन्ध में शपथ दिलाई कि “मैं सत्ययनिष्ठा से शपथ लेता हूं कि मैं राष्ट्र की एकता, अखंडता और सुरक्षा को बनाए रखने के लिए स्वंय को समर्पित करुंगा और अपने देशवासियों के बीच यह संदेश फैलाने का भी भरकस प्रयास करूंगा। मैं यह शपथ अपने देश की एकता की भावना से ले रहा हूं, जिसे सरदार वल्लभ भाई पटेल की दूरदर्शिता एवं कार्यों द्वारा संभव बनाया जा सका है। मैं अपने देश की आंतरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अपना योगदान करने की भी सत्य निष्ठा से संकल्प लेता हूं“। 
मुख्य राजस्व अधिकारी ने बताया कि वल्लभभाई पटेल (31 अक्टूबर 1875-15 दिसंबर 1950), जो सरदार पटेल के नाम से लोकप्रिय थे, एक भारतीय राजनीतिज्ञ थे। उन्होंने भारत के पहले उप-प्रधानमंत्री के रूप में कार्य किया। भारत और अन्य जगहों पर, उन्हें अक्सर हिंदी, उर्दू और फारसी में सरदार कहा जाता था, जिसका अर्थ है ‘प्रमुख’। पटेल का जन्म 31 अक्टूबर 1875 को नडियाद, गुजरात में एक लेवा पटेल (पाटीदार), जाति में हुआ था। वे झवेरभाई पटेल एवं लाडबा देवी की चैथी संतान थे। सोमाभाई, नरसीभाई और विट्टलभाई उनके अग्रज थे। उनकी शिक्षा मुख्यतः स्वाध्याय से ही हुई। लन्दन जाकर उन्होंने बैरिस्टर की पढ़ाई की और वापस आकर अहमदाबाद में वकालत करने लगे। महात्मा गांधी के विचारों से प्रेरित होकर उन्होने भारत के स्वतन्त्रता आन्दोलन में भाग लिया। 
इस अवसर पर कलेक्ट्रेट परिवार के समस्त अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment