.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मऊ : प्रेमिकाओं की नाराजगी से क्षुब्ध दो दोस्तों ने जहर खाया, एक कि मौत दूसरा गम्भीर

प्रेमिकाओं से बात चीत बन्द थी, बिगड़ी बात बनाने पहुंचे थे दोनों प्रेमी कि मामला और बिगड़ गया
 

मऊ : रानीपुर थाना क्षेत्र के खंडेरायपुर गांव स्थित रामलीला मैदान में मंगलवार की सुबह दो नवयुवक बेसुध पड़े दिखे। ग्रामीणों ने जब नजदीक जाकर देखा तो एक की मौत हो चुकी थी जबकि दूसरा अचेतावस्था में था। जानकारी फैलते ही गांव में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस दोनों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रानीपुर लेकर आई। यहां चिकित्सकों ने एक की मौत की पुष्टि कर दी जबकि दूसरे का प्राथमिक उपचार करने के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। बाद में उसे वहां से भी वाराणसी के लिए रेफर कर दिया गया।
जब उनकी पहचान हुई तो छनकर जो कहानी सामने आई, उससे पता चला कि मामला प्रेम प्रसंग का है। दोनों दोस्तों का घर बलिया जनपद में है। बलिया जनपद के नगरा थाना क्षेत्र के लखवलिया गांव निवासी गोरखनाथ गुप्ता के गांव में खंडेरायपुर निवासी किशोरी की रिश्तेदारी है। वहां आते-जाते गोरखनाथ के पुत्र विशाल गुप्ता से उसका प्रेम हो गया। समय के साथ मोबाइल फोन पर बात करते हुए प्रेम का रंग इतना चढ़ा कि विशाल रामलीला मैदान में रात के समय अक्सर उससे मिलने पहुंचने लगा। उसका दूसरा साथी बलिया जिला के थाना सिकंदरपुर थाना क्षेत्र के मुड़ियापुर गांव के निवासी संतोष गुप्ता का पुत्र बिट्टू गुप्ता है। हाईस्कूल परीक्षा के दौरान उसकी विशाल से दोस्ती हो गई। वह भी उसके साथ खंडेरायपुर आता-जाता था, उसका भी दोस्त की प्रेमिका की चचेरी बहन से प्यार हो गया। दोनों दोस्त सोमवार की शाम अपने घर से निकले और रोडवेज बस से मऊ आए। वहां से टेंपों पकड़कर सलाहाबाद गए। वहां से पैदल खंडेरायपुर गांव पहुंच गए। रात में प्रेमिकाओं के घर से कुछ दूरी पर रामलीला मैदान में मिलने के लिए दोनों पहुंचे थे। पुलिस को दी गई तहरीर में मृतक के पिता गोरखनाथ ने आरोप लगाया है कि प्रेमिकाओं को उन्होंने मोबाइल से उन्हें मिलने के लिए बुलाया। उनमें से विशाल की प्रेमिका ही वहां पहुंची। आने पर किसी बात को लेकर कहासुनी हुई। वह जाने लगी तो विशाल ने कहा कि अगर वह चली गई तो वह जहर खा लेगा। इस पर प्रेमिका ने जवाब दिया कि खा लो और चली गई। क्षुब्ध दोनों प्रेमियों ने जहरीला पदार्थ खा लिया। इससे 17 वर्षीय विशाल गुप्ता की मौत हो गई और जबकि उसका साथी बिट्टू पूरी रात वहीं पर अचेतावस्था में पड़ा रहा। मौके से पुलिस ने कृषि उत्पादों में प्रयोग की जाने वाली एक कीटनाशक दवा की शीशी भी बरामद की है। पहचान होने के बाद घटना की सूचना पुलिस ने मृतक विशाल के परिजनों को दी। सूचना पाकर परिजन रानीपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। पुलिस ने मृतक विशाल के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया और दूसरे किशोर बिट्टू को इलाज के लिए अस्पताल भेजा। रानीपुर पीएचसी के चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल भेज दिया तो यहां भी उसकी स्थिति गंभीर देख चिकित्सकों ने वाराणसी के लिए रेफर कर दिया। इसे कच्ची उम्र का प्रेम कहें या आकर्षण। कुछ देर के लिए होश में आए बिट्टू ने बताया कि उसकी अपनी प्रेमिका से एक माह से बोलचाल बंद थी। विशाल का भी उसकी प्रेमिका से 15 दिनों पूर्व झगड़ा हुआ था। वे दोनों बातचीत शुरू करने के उद्देश्य से यहां आए थे। दोनों ने फोन कर अपनी प्रेमिकाओं को बुलाया और कहा भी कि वे नहीं आएंगी तो वे जहर खा लेंगे। इस पर विशाल की प्रेमिका तो आई पर बिट्टू की नहीं। आने के बाद भी उन दोनों में बात नहीं बनी। वह जाने लगी तो विशाल ने कहा, चली गई तो जहर खा लूंगा। इस पर प्रेमिका ने उलट कर जवाब दिया कि खा लो और चली गई। इसके बाद दोनों ने जहर खा लिया। जहर खाने के बाद बिट्टृ को उल्टी होने लगी और वह उल्टी करके बेहोश हो गया। जबकि विशाल को बेचैनी हुई तो वह लेट गया। रात में विशाल की मौत हो गई। प्रेम प्रसंग में जहर खाकर मृत किशोर विशाल गुप्ता के पिता ने दोनों किशोरों की प्रेमिकाओं के विरुद्ध रानीपुर थाना में तहरीर दी। उनकी तहरीर के आधार पर दोनों किशोरियों के विरुद्ध पुलिस ने आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment