.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: प्रदेश सरकार ने विश्वकर्मा पूजा की छुट्टी निरस्त कर बड़ी आबादी का अपमान किया- रामआसरे विश्वकर्मा


पूर्व मंत्री ने विश्वकर्मा भवन आजमगढ मे भगवान विश्वकर्मा की पूजा, आरती का कार्यक्रम आयोजित किया


आज़मगढ़: पूर्वमन्त्री रामआसरे विश्वकर्मा ने आज विश्वकर्मा भवन आजमगढ मे भगवान विश्वकर्मा जी की पूजा एवं आरती का कार्यक्रम आयोजित किया। श्री विश्वकर्मा ने समस्त देशवासियों तथा विश्वकर्मा समाज को भगवान विश्वकर्मा के पूजन दिवस की बधाई और शुभकामनाएं दी।
पत्रकार वार्ता में पूर्वमन्त्री ने कहा कि भगवान हमारे आराध्य देवता हैं। सृष्टि की रचना एवं समस्त निर्माण कार्य भगवान विश्वकर्मा ने किया है। भगवान विश्वकर्मा समाज के गौरव व स्वाभिमान के प्रतीक है।
विश्वकर्मा समाज की पहचान भगवान विश्वकर्मा से बनी है। सपा सरकार में मुख्यमन्त्री श्री अखिलेश यादव ने तथा नेता जी ने विश्वकर्मा पूजा की छुट्टी घोषित कर भगवान विश्वकर्मा का सम्मान किया था।
विश्वकर्मा समाज का भावनाएं भगवान विश्वकर्मा के पूजा दिवस से जुडी है।
भाजपा सरकार में मुख्यमन्त्री योगी श्री आदित्य नाथ ने विश्वकर्मा पूजा की छुट्टी निरस्त कर भगवान विश्वकर्मा का अपमान कर दिया। सरकार को इतनी बड़ी आबादी की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए था।समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय लखनऊ में प्रदेश अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम ने भगवान विश्वकर्मा की पूजा की।
सपा अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव ने कहा सपा सरकार बनने पर भगवान विश्वकर्मा पूजा का सार्वजनिक अवकाश पुन: घोषित किया जायगा। लखनऊ के गोमती नदी के तट पर भगवान विश्वकर्मा का भव्य मन्दिर बनाया जायेगा। विश्वकर्मा समाज को उनकी आबादी के अनुपात मे अधिकार और सुविधाएं दी जायेगी। विश्वकर्मा समाज को सरकार और राजनीति में समुचित भागीदारी दी जायेगी। पूर्वमन्त्री रामआसरे विश्वकर्मा ने सपा अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव का धन्यवाद ज्ञापित किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment