.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: निःशुल्क इलाज के लिए प्रवासी मजदूरों के शीघ्र बनाए जाएं गोल्डेन कार्डः डीएम


प्रवासी मजदूरों के लौटने से पहले उनके प्रधानमंत्री जन आरोग्य कार्ड बना दिया जाय-डीएम

आजमगढ़ 12 सितम्बर-- कोविड-19 के कारण लॉकडाउन के दौरान महानगरों से अपने गाँव वापस आए प्रवासी मजदूरों के लिए जिलाधिकारी राजेश कुमार ने निर्देशित किया है कि उनके लौटने से पहले उनके प्रधानमंत्री जन आरोग्य कार्ड बना दिया जाये, जिससे कि उन्हें और उनके परिवार को भविष्य में गंभीर तथा महँगे ईलाज के लिए परेशान न होना पड़े। जिलाधिकारी के निर्देश के बाद 300 प्रवासी मजदूरों को गोल्डेन कार्डबनाने के लिए चिह्नित किया गया, जिसमें से अब तक 135 के गोल्डन कार्डबनाए जा चुके हैं। 09 सितम्बर 2020 तक जिले में आयुष्मान भारत योजना के कुल 1.41 लाख लाभार्थी परिवार हो चुके हैं। इसमें से 1.15 लाख परिवार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के हैं और 26,468 मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के हैं। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 एके मिश्रा ने बताया कि पूरे देश में योजना से सम्बद्ध अस्पतालों में 05 लाख रुपये तक निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रधानमंत्री जन आरोग्य (आयुष्मान भारत) योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे हैं। इसके लिए प्रतिदिन स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रवासी मजदूरों को जल्द से जल्द नजदीक के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) व कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) पर पहुंचकर गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने ने बताया कि कोविड-19 के कारण देश के अलग-अलग शहरों से प्रवासी मजदूरों को अपने घर लौटना पड़ा था। अब सरकार उनके लौटने से पहले उनके परिवार को गोल्डन कार्ड मुहैया करा रही है। आयुष्मान भारत योजना के डिस्ट्रिक्ट आईटी आफिसर अजय प्रताप सिंह ने बताया कि प्रवासी मजदूरों की सूची के तहत गोल्डन कार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही है। इन प्रवासी मजदूरों को कार्ड में दर्ज प्रत्येकसदस्य के इलाज की सुविधा योजना के पैनल में शामिल अस्पतालों में मिलेगी। वह योजना से संबद्ध देश के किसी भी सरकारी या निजी अस्पताल में जाकर निःशुल्क इलाज करा सकते हैं। इस योजना के तहत जिला पुरुष व महिला अस्पताल सहित सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों को पैनल में शामिल किया गया है जहां पर प्रवासी मजदूरों के निःशुल्क गोल्डन कार्ड बनाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन प्रवासी मजदूरों को गोल्डन कार्ड बनवाना है, वह नजदीक के सीएचसी पर आधार कार्ड व राशन कार्ड के साथ पहुंचकर अपना गोल्डन कार्ड जल्द से जल्द बनवा लें। गोल्डेन कार्ड की जानकारी हेतु निःशुल्क हेल्पलाइन नंबर 1800-1800-4444 पर कॉल करके जान सकते हैं कि आपका नाम है या नहीं। अपने क्षेत्र की आशा से भी जानकारी ले सकते हैं। कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर भी गोल्डेन कार्ड 30 रुपए प्रति कार्ड देकर बनवा सकते हैं। अस्पतालों में तैनात आरोग्य मित्रों के द्वारा भी जानकारी ली जा सकती है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (पीएमजेएवाई) की वेबसाइट पर जाकर भी चेक किया जा सकता है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment