.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: अनोखा कंटेन्मेंट जोन ! जो अचानक खुलता है,बन्द नही हो पाता है और फिर घट जाता है


मुख्य चौक से खत्री टोला का क्षेत्र ,डीएम के एक निर्देश का फायदा उठा रसूखदारों ने तय किया पूर्व में स्थापित कंटेन्मेंट जोन का दायरा

डीएम के आदेश के बाद भी नही शुरू हो पाया नए कंटेन्मेंट जोन में तत्काल सैनिटाइजेसन

आजमगढ़ : कोरोना महामारी के इस काल में तमाम गाइडलाइन प्रशासन की तरफ से लोगों के लिए जारी की गई लेकिन इसके बाद भी कुछ लोगों की मनमानी जारी है। ऐसे ही एक मामले में आज उस समय हंगामा हो गया जब लेखपाल कंटेनमेंट जोन बनाने के लिए क्षेत्र में गया जहां दुकानदारों ने उसे बैरंग लौटा दिया ।
कंटेनमेंट ज़ोन के अंतर्गत किसी व्यक्ति के पॉजिटिव टेस्ट रिपोर्ट आने के बाद उसके घर के आसपास के क्षेत्र को प्रतिबंधित कर दिया जाता है। आजमगढ़ शहर में कई पॉजिटिव मामले सामने आए और कंटेनमेंट जोन भी बन रहा है लेकिन इसमें नियम कानून का पालन होता नहीं दिख रहा। कहीं 15 दिन का कंटेनमेंट जोन चल रहा है तो कहीं 5 दिन में ही खत्म कर दिया जा रहा है। अब कहीं बनाया ही नहीं जा रहा। कुछ जगहों पर केवल रस्सी बांध के घर के बाहर छोड़ दिया जा रहा है वहीं शासन की मंशा के अनुरूप नगर पालिका और नगर पंचायतों को क्षेत्रों में सैनिटाइजेशन लगातार कराए जाने को लेकर निर्देश दिए जा रहे हैं। लेकिन कभी-कभी कुछ इलाकों में ही इसको किए जाने की शिकायत मिल रही है। आजमगढ़ के मुख्य चौक के समीप कई पॉजिटिव केस के चलते 15 दिन तक 100 मीटर के दायरे में कंटेन्मेंट क्षेत्र घोषित कर आम लोगों के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था । फिर 05 दिन में ही लेकिन बड़े व्यापारियों के रसूख के चलते उनकी दुकानों को कंटेन्मेंट क्षेत्र को छोटा करते हुए प्रतिबंध से बाहर कर दिया गया। ऐसी ही एक शिकायत के बाद दुबारा कंटेनमेंट जोन बनाने आये राजस्व विभाग के लेखपाल को कुछ दुकानदारों ने डांट डपट कर वापस भेज दिया । सुबह के हंगामे के बाद दोपहर बाद तहसील प्रशासन ने उसी इलाके में कंटेन्मेंट जोन बनवा दिया लेकिन डीएम के नए आदेश के तहत मुख्य मार्ग बंद नही किया और केवल जिस तरफ कोरोना मरीज था उधर की पटरी की कुछ दुकाने बन्द कर दी गईं । गौरतलब है कि जिस मरीज के चलते कंटेन्मेंट जोन बना था उसी के मद्देनजर उसी कंटेन्मेंट जोन को एक बार पूरा खोला गया फिर 24 घंटे बाद बंद करने का प्रयास विफल रहा और फिर अब उसी कंटेन्मेंट जोन का क्षेत्र घटा कर कुछ दुकानों तक प्रतिबंध लगाया गया है । ऐसे ही मामलो और लगातार प्रतिबंधित क्षेत्र बढ़ने के चलते डीएम राजेश कुमार ने एक दिन पूर्व ही मुख्य रोड को बंद न करने को कहा था लेकिन अब इसी की आड़ में कुछ दुकानदार मनमानी पर उतर जा रहे हैं। डीएम ने यह भी निर्देश दिया था कि अब से कंटेन्मेंट जोन बनते ही तत्काल सैनिटाइजेसन का काम किया जाएगा पर फिलहाल अभी ऐसा नही हो सका है । शहर के अराजीबाग क्षेत्र में  बने दो कंटेन्मेंट ज़ोन में 48 घंटे बाद भी सैनीटाइजेशन नही हो पाया। दूसरी तरफ नगरपालिका के ईओ शुभनाथ प्रसाद ने दावा किया कि वह लगातार साफ-सफाई वह सैनिटाइजेशन का कार्य करा रहे हैं ।


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment