.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: कोरोना की चेन तोड़ने को स्वास्थ्य विभाग तैयार कर रहा है चक्रव्यूह

आशा कार्यकर्ताओं और परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को कांटेक्ट ट्रेसिग प्रशिक्षण दिया जा रहा है  

आजमगढ़ : कोरोना वायरस की चेन तोड़ने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा चक्रव्यूह तैयार किया जा रहा है, ताकि वायरस संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। इसके लिए आशा कार्यकर्ताओं और परिषदीय स्कूलों के शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अतरौलिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. शिवाजी सिंह ने बताया कि कंटेनमेंट जोन में कोरोना पॉजिटिव मरीज के संपर्कों की खोज (कांटेक्ट ट्रेसिग) का प्रशिक्षण दिया गया है। इसके पहले चरण में यह देखा जाएगा कि वह जिस घर में मरीज रह रहा है उसका कौन सबसे करीबी है। दूसरे चरण में यह देखा जाता है कि उसके अगल-बगल में किसके यहां आना-जाना है। तीसरे में जनरल स्टोर, चाय की दुकान, नाई की दुकान आदि जगहों पर उसके संपर्क देखे जाते हैं। इन तीनों बातों को ध्यान में रखकर ट्रेसिग की जाएगी। इनकी खोज के लिए घर-घर जाकर जांच की जाएगी। अतरौलिया के ब्लाक सामुदायिक प्रक्रिया प्रबंधक (बीसीपीएम) सुरेश पांडेय ने बताया कि कोरोना संक्रमित लोगों की ट्रेसिग होगी। इसके लिए 25-25 लोगों का बैच बनाया गया है। इसमें कुल 125 आशा कार्यकर्ताओं और 125 शिक्षकों का प्रशिक्षण हो चुका है। इसके तहत पॉजिटिव के संपर्क में आए व्यक्तियों के बारे में जानकारी ली जाएगी। जैसे कि संक्रमित व्यक्ति कहां से राशन व सब्जी लिया, किससे बाल कटवाए, किस डॉक्टर/अस्पताल से इलाज कराया, किसी शादी-विवाह या जन्मोत्सव में भाग लिया, संक्रमित होने के बाद कहां गए, किस दोस्त-रिश्तेदार से मिले, कौन दोस्त-रिश्तेदार उनके घर आए। संपर्क में आने वालों का नाम, मोबाइल नम्बर पता सहित लेना है। साथ ही उनके आसपास सफाई की स्थिति देखनी है। रिपोर्ट आने तक सभी को होम क्वारंटाइन किया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment