.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ : मण्डलायुक्त ने किया बाढ़ चौकियों एवं आश्रय स्थल का औचक निरीक्षण


यद्यपि कि व्यवस्थायें सन्तोषजनक हैं, परन्तु स्थिति पर निरन्तर रखें सतर्क दृष्टि: मण्डलायुक्त

ग्रामवासियों को कोरोनावायरस गंभीर परिणामों के प्रति निरन्तर जागरुक करते रहे मण्डलायुक्त

आज़मगढ़ 15 जुलाई -- मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने जनपद के सगड़ी तहसील अन्तर्गत देवारा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में स्थापित बाढ़ चौकियों के साथ ही बदरहुआं नाला गेज एवं रामनगर बैजाबारी के गंगा गौरी महाविद्यालय में बाढ़ प्रभावितों हेतु स्थापित आश्रय स्थल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बाढ़ चैकियों एवं आश्रय स्थल पर व्यवस्थायें सन्तोषजनक पायी गयीं। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि यद्यपि की व्यवस्थायें सन्तोषजनक हैं, परन्तु स्थिति पर लगातार सतर्क दृष्टि रखी जाय तथा तैयारियों की निरन्तर मानीटरिंग करते रहें ताकि आगे चलकर किसी भी प्रकार की विषम परिस्थिति से बचा जा सके। उन्होंने बाढ़ चैकी दाम महुला, गांगेपुर एवं हाजीपुर के निरीक्षण के दौरान वहाॅं पर तैनात कर्मचारियों से लाइफ जैकेट, लाइफब्वाय, स्ट्रेचर, लाउडर आदि के प्रयोग का अभ्यास कराकर उनके कौशल को परखा। मण्डलायुक्त ने सभी बाढ़ चैकियों के अन्तर्गत आने वाले गांवों में किये गये भ्रमण का रजिस्टर भी चेक किया तथा अब तक किये गये भ्रमण की कार्यवृत्ति ग्रामवासियों की उपस्थिति में सम्बन्धित बाढ़ चैकी प्रभारियों के माध्यम से सुनाई गयी, जिस पर ग्रामवासियों द्वारा सही बताया गया।
मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने सभी बाढ़ चौकी प्रभारियों को निर्देशित किया जितनी नौकायें लगाई गयी हैं उन सभी को चेक करा लें तथा जिसकी मरम्मत आदि की आवश्यकता है उसे तुरन्त मरम्मत करा लें। उन्होंने यह भी कहा कि सभी नाविकों को मोबाईल नम्बर रजिस्टर में अवश्य दर्ज करें, यदि किसी नाविक के पास मोबाइल नहीं है तो उसके परिवार के अन्य सदस्य का नम्बर उनसे प्राप्त कर लें ताकि उनसे सम्पर्क किया जा सके। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने बदरहुआॅं नाला गेज के निरीक्षण के दौरान बन्धे से नीचे मड़ई में अस्थायी रूप से रह रहे एक वृद्ध से शासन द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ पाये जाने के सम्बन्ध मे जानकारी की तो वृद्ध द्वारा बताया गया कि वह किसान हैं तथा काफी निचले हिस्से में होने के कारण उनका खेत पानी डूब गया है तथा घर भी चारो ओर पानी से घिरा है। इस पर उन्होंने उपजिलाधिकारी सगड़ी को निर्देश दिया कि तुरन्त जाॅंच पड़ताल की कार्यवाही करते हुए इन्हें प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि तथा अन्य योजनाओं से लाभान्वित करने की कार्यवाही की जाय। इसी प्रकार रिंग बांध पर भी 70 वर्षीय बुजुर्ग महिला को भी उनकी पात्रता के आधार पर योजनाओं का लाभ दिलाने हेतु निर्देशित किया। मण्डलायुक्त ने समस्त बाढ़ चैकी प्रभारियों को निर्देश दिया कि चैकी के अन्तर्गत आने वाले सभी गावों का निरन्तर भ्रमण करें तथा ग्रामवासियों की समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करें। मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त बाढ़ क्षेत्रों के भ्रमण के दौरान ग्रामवासियों द्वारा मास्क प्रयोग एवं सोशल डिस्टेन्सिंग के प्रति बरती जा रही लापरवाही पर उन्हें कोरोनावायरस की गंभीरत परिणामों के प्रति निरन्तर जागरुक करते रहे। उन्होंने ग्रामवासियों को समझाया कि कोरोनावायरस की महामारी से बचने का एक ही तरीका है कि अनावश्यक रूप से घरो से निकलने से बचा जाय तथा यदि घर से बाहर निकलना तो मास्क, गमछे आदि से मुंह को अवश्य को ढकें तथा एक दूसरे की दूरी बनाये रखें। उन्होंने चैकी प्रभारियों को भी निर्देश दिया कि गांवों में कोविड-19 के प्रति लोगों को निरन्तर सजग और जागरुक करते रहें।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) जीपी गुप्ता, अधिशासी अभियन्ता बाढ़ खण्ड दीपक कुमार, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. वीके सिंह, उपजिलाधिकारी सगड़ी अरविन्द कुमार सिंह, खण्ड विकास अधिकारी अज़मतगढ़ इरशाद अहमद, तहसीलदार सगड़ी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment