.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

कांग्रेस नेता ने पूर्व सांसद को घेरा,कहा रक्षा सूत्र काटने वाले हाथों पर लग जायेगा ग्रहण


पूर्व सांसद ने राजनीति में अपनी चार धाम की यात्रा पूरी कर ली है और अब नफरत को बढ़ावा दे रहे हैं - आशुतोष द्विवेदी  

पूर्व सांसद ने मंदिरों में न जाने और रक्षा सूत्र को कटवाने का बयान दिया था, अब जवाब में शुरू हुआ ’’ रक्षा सूत्र बचाओ अभियान’’ 

आजमगढ़। रक्षा-सूत्र सनातन हिन्दुत्व का आभूषण है, श्रृंगार है, रक्षा सूत्र कटवाने की बात करने वाले के हाथों में ग्रहण लग जायेगा। पूर्व सांसद और समाजवादी पार्टी के नेता रमाकांत यादव रक्षा कटवाने के बयान पर पलटवार करते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य आशुतोष द्विवेदी ने कहा कि रक्षा सूत्र, शास्त्र, शिखा, भस्म और जनेऊ सनातन हिन्दुत्व की पहचान है और रमाकांत यादव ने जो बयान दिया है वह समाज के बीच गहरी खाई पैदा करने का काम करेगा। उन्होंने प्रशासन से मांग किया है कि पूर्व सांसद के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही करे। उन्होंने पूर्व सांसद को खुलेआम चुनौती देते हुए कहा कि ब्राह्मण समाज इसका पुरजोर जवाब देगा, ईंट का जवाब पत्थर से दिया जायेगा।
रक्षा-सूत्र बांधो अभियान की शुरुआत करते हुए श्री द्विवेदी ने 11 ब्राहमणों को रक्षा सूत्र बंधवा कर अभियान की शुरुआत किया। उन्होंने कहा कि हमारे देश में गंगा जमुनी तहजीब है, हम जहां अपने धार्मिक आयोजनों में देवताओं को हाजिर नाजिर जान कर प्रार्थना करते है कि पृथ्वी पर विभिन्न आपदाओं से हमारी रक्षा करेंगे, वहीं हमारे मुस्लिम भाई उस परवरदिगार को याद करते हुए ताविज बांधते है, चादर चढ़ाते है, सबकी अपनी अपनी आस्था का अपना अपना तरीका है. आज उन्होंने हिन्दु धर्म के बारे में बात करते हुए रक्षा कटवाने की बात की तो कल मुस्लिम भाईयों के गले से ताविज और ईसाइयों के गले से क्रास छिनने की बात होगी।
कांग्रेस नेता ने कहा कि पूर्व सांसद दलितों और पिछड़ों की बात करते है लेकिन वक्त गवाह है कि राजनीतिक लिहाज से अपनी चार धाम की यात्रा पूरी कर ली है और अब वे विद्वेष की राजनीति कर रहे है और नफरत को बढ़ावा दे रहे है. श्री द्विवेदी ने कहा कि हमारे पार्टी के नेता राहुल गांधी जनेऊ धारण करते है, और श्रीमती प्रियंका गांधी जब काशी आती है तो बाबा विश्वनाथ का दर्शन पूजन करती है, ये उनकी धार्मिक स्वतंत्रता है, भारत के हर नागरिक की धार्मिक स्वतंत्रता है और किसी को भी इस पर कुठाराघात करने का अधिकार किसी को नहीं है और ऐसा कुत्सित प्रयास करने वालों की मंशा पर ग्रहण लगा दिया जायेगा। इस दौरान वैदिक मंत्रोच्चार के बीच आचार्य चन्द्रभान पांडे ने उपस्थित ब्राह्मणो को रक्षा सूत्र बांध कर विधिवत ’’ रक्षा सूत्र बचाओं अभियान ’’ की शुरुआत किया। इस मौके पर ब्राहमण समाज कल्याण परिषद के मंत्री बृजेश नंदन पांडे, रविकांत त्रिपाठी, गांधीगिरी टीम के संयोजक विवके पांडे, मनीष पांडे, राजेश पाठक, देवेन्द्र मिश्र आदि मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment