.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

सनसनीखेज ! पुत्र खेलता रहा मोबाइल गेम और पिता के आठ लाख रुपये उड़ा दिए गए

बच्चे की मासूमियत का हैकर्स ने उठाया फायदा, मामला अब एसपी आजमगढ़ साइबर कॉप प्रो0 त्रिवेणी सिंह के हाथों में पंहुचा  

आजमगढ़ : बेटे के शौक से पिता को आठ लाख रुपये की चपत लग गई। साइबर अपराधियों ने मासूम के मोबाइल गेम के शौक को हथियार बनाकर पहले जरूरी जानकारियां हासिल की फिर उसके पिता के बैंक खाते से लाखों रुपये ले उड़े। हैकर्स की करतूत उजागर हुई तो पीड़ित की नींद उड़ गई। पुलिस तक सनसनीखेज मामला पहुंचा छानबीन में पूरा खेल उजागर हो गया। टीमें अपराधियों की गिरफ्तारी में जुट गई है, जिनके हाथ आने के बाद पूर्णतया पर्दा उठ जाएगा। बिलरियागंज क्षेत्र के इस्माइलपुर गोरिया गांव निवासी हरिबंश लाल श्रीवास्तव शिक्षक हैं। उनका पुत्र दीप रंजन (12) छठवीं का छात्र है। उसे मोबाइल फोन पर पब्जी , कोडा साफ्ट, फ्री फायर आदि आनलाइन गेम खेलने का शौक है। एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह ने बताया कि दीप रंजन के मोबाइल फोन पर एक दिन एक हैकर्स ने वाट्सएप मैसेज किया  की वो उसे गेम का एडवांस स्टेज भी खेला सकता हैं  । बच्चे ने रुचि दिखाई तो दोस्ती गांठ कर उसके शौक को हथियार बना लिया। फिर क्या धीरे-धीरे बच्चे को एडवांस गेम खेलने का लालच देते रहे फिर कि वह काफी रुपये भी कमा सकता है। हैकर्स के झांसा में आकर उक्त बालक अपने पिता के डेबिट कार्ड का डिटेल के साथ ही मोबाइल फोन नंबर भी शेयर कर दिया। हैकर्स पेटीएम अकाउंट पर आगे कुछ रुपये भेजता है उसके बाद उसके पिता के मोबाइल फोन पर आने वाले ओटीपी की जानकारी भी हासिल कर लिया। सारी जानकारी प्राप्त करने के बाद साइबर अपराधी उसके पिता के बैंक खाता से 10 अप्रैल से लेकर 12 मई के बीच आठ लाख रुपये उड़ा दिए। एसपी ने कहा कि रुपये उड़ाने वाले अपराधी को ट्रेस कर लिया गया है, उसे जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment