.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ : जिला प्रशासन ने 'लड़ेंगे और बढ़ेंगे साथ-साथ' का नारा दिया

जबसे लॉकडाउन घोषित हुआ है, तबसे अब तक विभिन्न माध्यमों से लगभग 62 हजार प्रवासी श्रमिक आ चुके हैं - डीएम 

इन प्रवासियों कौशल के अनुसार रोजगार मुहैया कराने के लिए त्रिस्तरीय फार्मूले पर कार्रवाई की जाएगी- डीएम 

आजमगढ़ : वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण से पूरा विश्व जूझ रहा है। ऐसे में अब बचाव के साथ ही शहरी व ग्रामीण अर्थ व्यवस्था को पटरी पर लाना मुख्य चुनौती है। जिला प्रशासन ने निगरानी समितियों के माध्यम से लोगों को जागरूक करने के लिए लड़ेंगे और बढ़ेंगे साथ-साथ का नारा दिया है। डीएम नागेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि जनता क‌र्फ्यू के बाद जिले में जबसे लॉकडाउन घोषित हुआ है। तबसे लेकर अब तक विभिन्न माध्यमों से अब तक लगभग 62 हजार प्रवासी श्रमिक आ चुके हैं। जबकि अगले एक सप्ताह में अभी और प्रवासी श्रमिकों की आने की संभावना है। इन्हें इनके कौशल के अनुसार रोजगार मुहैया कराने के लिए त्रिस्तरीय फार्मूले पर कार्रवाई की जाएगी। ग्रामीण स्तर उद्योग स्थापना के लिए युवकों की टीम बनेगी, जो स्थानीय बाजारों में भ्रमण कर लोकल व ब्रॉडेंड सामानों के खरीद व बिक्री की पड़ताल करेंगे। उसके अनुसार स्थानीय स्तर पर डिमांड के अनुसार उत्पाद तैयार किया जाएगा। इससे न सिर्फ जिला बल्कि पूरे देश की जीडीपी बढ़ेगी।  दिनांक 01 मई 2020 को प्रातः 6ः00 बजे से दिनांक 12 मई 2020 को प्रातः 6ः00 बजे तक कुल 15039 व्यक्ति जनपद आजमगढ़ में अन्य प्रदेशों/जनपदों से आये हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment