.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: जनपद में आ सकते हैं 15 हजार से ज्यादा प्रवासी मजदूर, हो रही तैयारी

ज्यादा भी हो सकती है संख्या, ब्लाकवार 10-10 क्वारंटीन शेल्टर होम  बनाये जा रहे हैं - डीएम 

आजमगढ़। शासन की ओर से जिला प्रशासन को बताया गया है कि प्रवासी मजदूरों को वापस लाने की प्रक्रिया के तहत जनपद में लगभग 15 हजार मजदूर आ सकते हैं। वहीं, जिला प्रशासन मानकर चल रहा है कि ये संख्या इससे कहीं ज्यादा होगी। इसलिए ब्लाकवार 10-10 क्वारंटीन शेल्टर होम को चिह्नित किया जा रहा है। इसके साथ निर्देश दिए गए हैं कि शेल्टर होम में कोई भी संदिग्ध मिलता है उसे तुरंत अन्य लोगों से अलग कर दिया जाए। उसे सैंपलिंग के लिए इंस्टीट्यूशनल क्वारंटीन के लिए भेज दिया जाए। जब तक उसे शेल्टर होम में रखा जाता है तो पीपीई किट, मास्क आदि से लैस कर्मचारी ही उनकी व्यवस्ता देंखेंगे। इसे उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग को सौंपी गई है।
जिलाधिकारी एनपी सिंह ने बताया कि बाहर से आने वाले प्रवासी मजदूरों को पहले शेल्टर होम में क्वारंटीन किया जाएगा। प्रवासियों की संख्या को देखते हुए इसी हिसाब से शेल्टर होम को चिह्नित कराया जा रहा है। सामुदायिक किचन साफ सुथरा हो और बेड की दूरी कम से कम दो मीटर की रखी जाएगी। उक्त शेल्टर होम इंटर या पीजी कालेज में बनाए जा रहे हैं। जैसे ही कोई संदिग्ध नजर आता है इसके बारे में एसडीएम और सीएमओ को सूचना दी जाएगी। सीएमओ उसके सैंपलिंग और उसे इंटीट्यूशनल क्वारंटीन के लिए भेजने के व्यवस्था करेंगे। इससे पहले उसे अन्य लोगों से अलग कर दिया जाएगा। इसके खाना आदि देने वाले तथा सफाई आदि करने वाले पीपीई किट और मास्क आदि से लैस होंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment