.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मण्डलायुक्त व डीआईजी ने नगर व ग्रामीण स्थलों पर लाकडाउन का लिया जायजा 

खाद्य पदार्थों की कमी नहीं है, उपलब्धता बढ़ेगी, संयम से काम लें: मण्डलायुक्त 

सब्जियों, फलों आदि वस्तुओं के निर्धारित मूल्य से अधिक दाम लेने वालों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाय: डीआईजी आज़मगढ़ 25 मार्च -- कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उद्देश्य से पूरे देश को 21 दिनों तक के लिए किये गये लाकडाउन का जनपद में क्रियान्वयन का मौका मुआयना करने के उद्देश्य से मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी एवं डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने बुधवार को नगर के विभिन्न मुहल्लों के साथ ही अन्जान शहीद, सगड़ी, जीयनपुर आदि स्थलों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान दुकानें बन्द पाई गयीं, जगह जगह पर्याप्त संख्या में पुलिस बल भी तैनात थे। जीयनपुर भ्रमण के दौरान खाद्य पदार्थ लेकर जा रहे कुछ लोगों से खाद्य सामग्री की उपलब्धता के सम्बन्ध में जानकारी करने पर अवगत कराया गया कि स्थानीय दुकानदारों द्वारा सामान काफी मंहगे दामों पर दिये जा रहे हैं। मण्डलायुक्त ने इसे गंभीरता से लेते हुए उप निदेशक, मण्डी परिषद अमिताभ शुक्ल को निर्देशित किया कि इस ओर तत्काल प्राथमिकता के आधार पर ध्यान दिया जाय तथा सुनिश्चित किया जाय कि किसी भी दशा में निर्धारित मूल्य से अधिक दाम की वसूली न होने पाये। इसी क्रम में उन्होंने उपजिलाधिकारी सगड़ी प्रियंका प्रियदर्शिनी को भी मूल्य नियन्त्रण पर ध्यान देने तथा निरन्तर भ्रमणशील रहकर लोगों को अनावश्यक रूप से घरों से बाहर निकलने के दुष्परिणामों से अवगत कराये जाने का निर्देश दिया। डीआईजी सुभाष चन्द्र दूबे ने खाद्य सामग्री के मूल्य नियन्त्रण के सम्बन्ध में उपस्थित पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया स्थानीय मण्डी में आवश्यकतानुसार पुलिस कर्मियों की भी ड्यूटी लगाई जाय। उन्होंने कहा कि जो भी थोक या फुटकर विक्रेता अधिक मूल्य वसूली, जमाखोरी में संलिप्त पाया जाय उसके खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाय। मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने लोगों से कहा है कि भारत सरकार द्वारा लाकडाउन का यह निर्णय कोरोना वायरस के संक्रमण और उसके गंभीर दुष्परिणाम से सभी लोगों को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से लिया गया है। इसलिए ऐसी स्थिति में पूरे धैर्य और संयम से काम लें तथा दिये जा रहे निर्देशों का अक्षरशः पालन करते हुए स्वयं सुरक्षित रहें तथा शासन और प्रशासन को सहयोग दें। उन्होंने लोगों से कहा कि खाने पीने वाले सामानों को अनावश्यक रूप से अपने घरों में जमा करने की जरूरत नहीं हैं। आवश्यक वस्तुओं की न तो कमी है और न ही आगे कमी होने दी जायेगी। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने यह भी कहा कि खाद्य सामग्री की आपूर्ति निरन्तर जारी है, इसलिए लोग भ्रमित होने बचें। उन्होंने यह भी कहा कि आज की अपेक्षा आने वाले दिनों में सब्जियों, फलों सहित अन्य सभी आवश्यक खाद्य सामग्री आदि और अधिक मात्र में उपलब्ध रहेगी। भ्रमण के दौरान अधिकारियों ने नगर के मुहल्ल मातबरगंज शंकरजी तिराहे पर कतिपय लोगों को दो पहिया वाहनों से अनावश्यक रूप से घूमते हुए पाया, जिस पर मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों पर सख्त नाराजगी व्यक्त किया। डीआईजी श्री दूबे ने पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया कि गैर जरूरी तौर पर घूमने वालों के वाहनों का चालान किया जाये उनसे जुर्माना भी वसूल किया जाय। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि इस ओर विशेष ध्यान दिया जाय कि जो वास्तविक रूप से अपनी बुनियादी जरूरत के कारण अपने घरों से निकलते हैं तो उन्हें कोई परेशानी नहीं होनी चाहिए। मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने नरौली तिराहे पर ठेले पर फलों की बिक्री करने वालों बातचीत की तो बताया गया कि लोग नहीं आ जा रहे हैं जिसके कारण बिक्री नहीं हो रही है। उन्होंने इस सम्बन्ध में उप निदेशक, मण्डी परिषद को निर्देश दिया कि फल विक्रेताओं को नगर के वार्डों में जाकर फलों की बिक्री की व्यवस्था करें, इससे लोगों को अपने घर के पास ही फल उपलब्ध हो जायेगा, जिससे उन्हें सड़कों पर आने की जरूरत नहीं पड़ेगी। ---

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment