.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

निजामाबाद में आजमगढ़ महोत्सव में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश दिया गया

अभिनेता व सांसद रवि किशन ने अपनी प्रस्तुतियों से लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया

वाराणसी से आजमगढ़ तक की सड़क की दुर्दशा को सरकार के समक्ष उठाऊंगा- रविकिशन , सांसद 

 निजामाबाद (आजमगढ़) : निजामाबाद में आयोजित आजमगढ़ महोत्सव की शुरुआत जितनी अच्छी हुई उतना ही अच्छा समापन भी हुआ। कलाकारों का सम्मान हुआ तो वहीं बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश भी दिया गया। अभिनेता व सांसद रवि किशन ने रविवार की रात आठ बजे पहुंचकर अपनी प्रस्तुतियों से लोगों को झूमने पर मजबूर कर दिया तो उनके साथ लखनऊ से आए अन्य कलाकारों ने अपनी सांस्कृतिक प्रस्तुतियों से लोगों का मन मोह लिया।
जनपद की माटी के दुष्यंत शुक्ला ने पूरे सांस्कृतिक कार्यक्रम को बुलंदी पर पहुंचाया। उनके देशभक्ति गीतों पर पूरा पंडाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंजता रहा। रविकिशन ने लोगों के बीच बीच-बीच में सरकार की विभिन्न योजनाओं खासतौर पर बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर भी काफी जोर दिया। शिक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने के साथ यह भी कहा कि वाराणसी से आजमगढ़ तक की सड़क की दुर्दशा को सरकार के समक्ष उठाऊंगा। लगभग एक घंटे लोगों का मनोरंजन करने के बाद रवि किशन अपने गंतव्य को चले गए। वहीं समापन पर जिलाधिकारी नरेंद्र प्रताप सिंह ने दीप प्रज्वलित कर सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह, एडीएम प्रशासन नरेंद्र सिंह, एडीएम वित्त गुरुप्रसाद, सीआरओ हरीशंकर सिंह, उपजिलाधिकारी फुलपुर बागीश शुक्ला, उपजिलाधिकारी सदर प्रशांत नायक, पुलिस उपाधीक्षक अकमल खान के साथ ही सर्किल के सभी प्रभारी निरीक्षक भी उपस्थित थे। उपजिलाधिकारी निजामाबाद प्रियंका प्रियदर्शनी ने समापन पर अपने अध्यक्षीय संबोधन से पूर्व हर उस व्यक्ति का सम्मान किया जिसने भी इस महोत्सव को शुरू कराने से लेकर बुलंदी प्रदान करने व समापन तक अपनी पूरी सहभागिता किसी भी रूप में निभाई। पहली बार देखा गया कि प्रशासन ने सभी को इतना सम्मान दिया गया कि अपनी सहभागिता निभाने वाला हर व्यक्ति संतुष्ट नजर आ रहा था। उप जिलाधिकारी ने सभी को अंगवस्त्रम व महोत्सव का स्मृति चिह्न देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम के समापन पर ग्रुप फोटो के समय मंच का संचालन कर रहे सलमान शेख ने कहा कि यह तो सिर्फ शुरुआत है। अब आप लोग प्रतिवर्ष इसी तरह महोत्सव कराते रहें। अंत में चलते-चलते सलमान ने यही कहा कि कभी अलविदा ना कहना, प्रतिवर्ष इसी तरह का आयोजन होता रहे और हम लोग बार-बार मिलते रहें।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment