.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

आजमगढ़ : छठ पर्व पर नदी व पोखरे में डूबे पांच युवक,चार की मौत एक की तलाश जारी



शहर के गौरीशंकर घाट के पास तमसा में नाव पलटी थी गोताखोरों ने 06 को बचाया, एक की मौत 

जीयनपुर में डूबे युवक की तलाश में एनडीआरएफ टीम लगी है 

आजमगढ़ : जिले में जहां छठ पूजा को लेकर लोगों में उल्लास का माहौल था, वहीं रविवार की भोर में उगते सूर्य को अ‌र्घ्य देने के लिए घाटों पर पहुंचे पांच युवकों की नदी व पोखरे में डूबने से मौत हो गई। युवकों की मौत से उनके परिवार में जहां कोहराम मचा हुआ है, वहीं गांव में मातम छाया है। शहर के गौरीशंकर घाट के पास नाव पलटने से तमसा नदी में जहां सात लोग डूब गए थे, वहीं गोताखोरों ने सक्रियता दिखाते हुए छह युवकों को सुरक्षित बचा लिया।
तरवां क्षेत्र के जीयापुर बोगरियां गांव के मूल निवासी 19 वर्षीय गिरीश उर्फ प्रिस गुप्त पुत्र धनंजय गुप्त शहर के मुकेरीगंज मोहल्ला में अपने चाचा के साथ रहकर पढ़ता था। वह दोस्तों के साथ रविवार को भोर में छठ पूजा देखने के लिए गौरी शंकर घाट गया था। अचानक नाव तमसा नदी में डूब गई। आस पास मौजूद गोताखोरों ने सक्रियता दिखाते हुए छह युवकों को बचा लिया, जबकि गिरीश नदी के गहरे पानी में समा गया। वाराणसी से आई एनडीआरएफ की टीम ने दोपहर बाद हथिया के समीप से उसका शव बरामद किया। वह तीन भाइयों में दूसरे नंबर पर था। उसकी मौत से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। शहर कोतवाली क्षेत्र के पगरा गांव के समीप तमसा नदी में डूबा युवक 22 वर्षीय रवि पुत्र स्व. राजपत जहानागंज क्षेत्र के धरवारा गांव का मूल निवासी था। वह छठ पूजा पर अपनी बहन के घर पगरा गांव आया हुआ था। बहन के साथ अ‌र्घ्य देने के लिए पोखरे पर गया था। दो घंटे बाद उसका शव जब बरामद हुआ तो परिवार में कोहराम मच गया। रवि दिल्ली में रहकर प्राइवेट नौकरी करता था, दो माह पूर्व वह दिल्ली से घर आया था। चार बहनों के बीच वह इकलौता भाई था। वहीँ जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के बेरमा गांव निवासी 19 वर्षीय विशाल प्रजापति पुत्र नंदलाल प्रजापति मुंबई में रहकर प्राइवेट कंपनी में काम करता था। वह छठ पूजा में शामिल होने के लिए मुंबई से कुछ दिन पूर्व घर आया था। रविवार की सुबह छठ पर्व पर मां को अर्घ देने के उपरांत तमसा नदी में स्नान करते समय डूब गया। शाम तक एनडीआरएफ की टीम तलाश में लगी हुई थी। विशाल के पिता सऊदी में नौकरी करते हैं। विशाल पांच भाई-बहनों में सबसे बड़ा था। वहीं हादसे के बाद मां सुनीता प्रजापति का रो-रो कर बुरा हाल था। जीयनपुर कस्बा के कोइरियापार पोखरा पर छठ पूजा के दौरान चचेरी बहन सुनीता पत्नी धर्मेंद्र को अर्घ दिलाने के बाद स्नान करते समय 22 वर्षीय प्रदीप पुत्र रामचंद्र डूब गया। वह बिलरियागंज क्षेत्र के झूसी गांव गांव का निवासी था। पांच घंटे बाद उसके शव को बरामद किया गया। वह तीन भाइयों में सबसे छोटा था। उसकी एक बहन भी हैं। मौत की खबर से मां फुलझारी देवी व बहन मंजू के चीख पुकार से कोहराम मचा हुआ है।
देवगांव कोतवाली क्षेत्र के सलेमपुर गांव निवासी 20 वर्षीय विपुल यादव पुत्र राम भरोस यादव दोस्तों के साथ गांव स्थित पोखरे पर छठ पूजा देखने के लिए रविवार की भोर में गया था। स्नान करते समय वह पोखरे में डूब गया। दो घंटे बाद गोताखोर ने उसके शव को पोखरे से बरामद कर लिया। शव बरामद होते ही गांव में कोहराम मच गया। हादसे से गांव के लोगों में शोक की लहर है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment