.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

आज़मगढ़ : मण्डलायुक्त व डीआईजी ने लालगंज में की जनसुनवाई, मौके पर हुआ 7 का निस्तारण

सम्पूर्ण समाधान दिवस पर अनुपस्थित 4 अधिकारियों से माँगा गया स्पष्टीकरण 

आज़मगढ़ 5 नवम्बर -- मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी एवं पुलिस उप महानिरीक्षक ने तहसील लालगंज में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर आम जन से रू-ब-रू होकर उनकी समस्यायें सुनीं। इस मौके पर चार अधिकारियों के अनुपस्थित रहने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्होंने अनुपस्थित अधिकारियों को स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया। अधिकारीद्वय द्वारा की जा रही जन समस्याओं की सुनवाई के दौरान कुल 81 आवेदन पत्र प्राप्त हुए जिसमें राजस्व से सम्बन्धित 34, विकास के 12, पुलिस के 11, विद्युत विभाग के 7, समाज कल्याण विभाग से सम्बन्धित 3 तथा शेष अन्य विभाग से सम्बन्धित थे। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने लोगों से प्राप्त उनकी समस्याओं की सुनवाई के दौरान 7 मामलों का मौके पर ही निस्तारण भी किया, जबकि शेष प्रार्थना पत्रों को समयबद्ध निस्तारण का सख्त निर्देश देते हुए सम्बन्धित विभागों के अधिकारी को हस्तान्तरित किया। सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सहायक अभियन्ता ग्रामीण अभियन्त्रण, खण्ड शिक्षा अधिकारी पल्हनी एवं भूमि संरक्षण अधिकारी अनुपस्थित थे। मण्डलायुक्त ने इन अधिकारियों के अनुपस्थिति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए अनुपस्थित अधिकारियों से स्पष्टीकरण प्राप्त कर उपलब्ध कराने हेतु निर्देशित किया। मण्डलायुक्त के समक्ष ग्राम रसूलपुर जयद्रथयती निवासी माता प्रसाद गिरि ने प्रार्थना पत्र प्रस्तुत करते हुए संस्कृत पाठशाला की जमीन को कब्जामुक्त कराये जाने की प्रार्थनी की, जिस पर उन्होंने राजस्व एवं पुलिस विभाग की टीम को मौके पर भेजा तथा पैमाइश कर आख्या उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। ग्राम बेला निवासी रामपलट ने अपने प्रार्थना में बताया कि ग्राम प्रधान द्वारा उनकी जमीन पर मिट्टी डालकर खड़ंजा लगवा दिया गया है। इस पर सम्बन्धित थानाध्यक्ष एवं राजस्व निरीक्षक को मौके पर भेजकर प्रकरण को अनिवार्य रूप से निस्तरित कर आख्या प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया। इसी प्रकार कई लोगों द्वारा राजस्व विभाग से सम्बन्धित समस्याओं के सम्बन्ध में अवगत कराया गया, जबकि टिकरगढ़ के स्वतन्त्र कुमार, पल्हना बाजार निवासी दिलदार राजभर सहित 7 लोगों द्वारा विद्युत विभाग से सम्बन्धित प्रकरण प्रस्तुत किये गये।
मण्डलायुक्त कनक त्रिपाठी ने दाखिल खारिज, वरासत, भूमि अतिक्रमण, नाबदान बन्द किये जाने, चकमार्ग पर कब्जा आदि जैसी छोटी छोटी समस्याओं के सम्बन्ध में कहा कि यद्यपि कि यह समस्यायें छोटी छोटी हैं परन्तु यदि इसके त्वरित निस्तारण पर ध्यान तत्काल नहीं दिया गया तो आगे चल कर यह समस्यायें गंभीर हो सकती हैं। उन्होंने उप जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि जो भी छोटी बड़ी समस्यायें संज्ञान में आती हैं तो उसके तत्काल निस्तारण के प्रति पूरी सजगता बरती जाये तथा इस ओर विशेष ध्यान देकर उसका स्थायी निराकरण कराना सुनिश्चित किया जाये। लालगंज में सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर काफी संख्या में विद्युत विभाग से सम्बन्धित शिकायतें प्राप्त होने पर भी मण्डलायुक्त ने कहा कि इस तहसील के अन्तर्गत विद्युत की कई समस्यायें प्रकाश में आई हैं, जिससे स्पष्ट होता है कि विद्युत विभाग के स्थानीय अधिकारी अपने विभाग की समस्याओं के निस्तारण के प्रति गंभीर नहीं हैं। उन्होंने उपस्थित अधिशासी अभियन्ता, विद्युत को सख्त निर्देश दिया कि ट्रान्सफार्मर बदलने, मीटर रीडिंग, तार टूटने आदि से सम्बन्धित जो भी शिकायतें हैं उसका ठोस निराकरण किया जाये, उन्हांेने आगाह किया कि भविष्य में इस प्रकार की शिकायतें नहीं मिलनी चाहिए। मण्डलायुक्त श्रीमती त्रिपाठी ने सम्पूर्ण समाधान दिवस के उपरान्त उपस्थित अधिकारियों कर्मचारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि उच्चस्तर से प्राप्त निर्देशों के बावजूद लेखपालों, पुलिस कर्मियों के मौके पर नहीं पहुंचने की भी पर्याप्त शिकायतें प्राप्त हुई हैं, उन्होंने आगाह किया कि किसी भी दशा में आइन्दा इसकी पुनरावृत्ति नहीं होनी चाहिए। उन्होंने विकास विभाग के सम्बन्ध में कहा कि प्रधानमन्त्री आवास योजना ग्रामीण के साथ ही अन्य योजनाओं में लाभार्थियों के चयन में अनियमितता की शिकायतें मिली हैं उन्होंने इस सम्बन्ध में खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि नियमित रूप से योजनाओं की मानीटरिंग अपने स्तर से करें तथा अनियमितताओं को प्रारम्भिक स्तर से दूर करना सुनिश्चित करें।
सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर डीआईजी मनोज तिवारी ने पुलिस मामलों से सम्बन्धित प्रकरणों की सुनवाई के दौरान सम्बन्धित थानाध्यक्षतों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। इस अवसर पर संभागीय खाद्य नियन्त्रक राजेश कुमार, उपायुक्त आबकारी एसपी चैधरी, संयुक्त निदेशक कृषि एसके सिंह, सहायक आयुक्त खाद्य विनीत पाण्डेय, उप निदेशक महिला कल्यायण आंेकानाथ यादव, उपजिलाधिकारी पंकज कुमार श्रीवास्तव, क्षेत्राधिकारी पुलिस अजय कुमार यादव, तहसीलदार अनिल कुमार पाठक सहित अन्य मण्डलीय, जनपदीय एवं तहसील स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment