.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ़: अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञ ने अस्पतालों में संक्रमण नियंत्रण कार्यशाला में किया सचेत

आजमगढ़: लाइफ लाइन हॉस्पिटल में ‘क्वालिटी मैन ऑफ इंडिया’ नाम से जाने जाने वाले डॉ डॉक्टर गिरधर ज्ञानी ने किया चिकित्सकों से संवाद 

आजमगढ़ : एक चिकित्सक का काम मरीज को निरोगी बनाना होता है, एक अस्पताल में विभिन्न असाध्य बीमारियों को लेकर के बहुत सारे मरीज भर्ती होते हैं, इसमें इस बात की पूरी संभावना होती है कि एक बीमारी से ग्रसित व्यक्ति की बीमारी दूसरों को भी लग सकती है, इन परिस्थितियों से में भर्ती मरीज अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त हो जाता है इस कारण उस मरीज के इलाज का खर्चा तथा भर्ती होने के दिन लगातार बढ़ते जाते हैं,साथ ही साथ मरीज के बचने की संभावना कम होती जाती है, अतः अस्पताल डॉक्टर तथा स्टाफ की यह जिम्मेदारी होती है कि वह अस्पताल में इन्फेक्शन कंट्रोल प्रोग्राम को प्राथमिकता दें, यह देखने में आया है कि उत्तर भारत के पूर्वोत्तर भाग में इन विषयों पर अस्पताल द्वारा अत्यंत कम ध्यान दिया जाता है।
इस विषय को लेकर के एएचपीआई एवं पी एचएसपीएल द्वारा लाइफ लाइन हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेंटर के सभागार में ‘इन्फेक्शन कंट्रोल’ पर एक कार्यशाला का आयोजन किया गया, इस कार्यशाला में लाइफ लाइन हॉस्पिटल, रेनबो हॉस्पिटल, रामा हॉस्पिटल, सरोज हॉस्पिटल, लोटस हॉस्पिटल, ग्लोबल हॉस्पिटल, विद्या हॉस्पिटल, शिवा नर्सिंग होम के अलावा अन्य 10 अस्पतालों ने भाग लिया।
इस कार्यक्रम में डॉक्टर गिरधर ज्ञानी (पूर्व सेक्रेटरी जनरल): Quality council of India एवं (डायरेक्टर जनरल ) AHPI ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत कीI डॉक्टर ज्ञानी का चिकित्सा के क्षेत्र में गुणवत्ता को अग्रसर एवं प्रसारित करने में विशेष योगदान रहा है. एनएबीएच की स्थापना में एवं पूरे देश में हेल्थ केयर क्वालिटी में अहम योगदान देने के चलते उन्हें SME वर्ल्ड मैगजीन ने ‘क्वालिटी मैन ऑफ इंडिया’ की उपाधि दी। साथ ही साथ कार्यक्रम को सफल बनाने में डॉक्टर विनय कपूर (पूर्व चिकित्सा अधीक्षक गंगाराम अस्पताल) एवं डॉ दीपक कुमार (माइक्रोबायोलॉजिस्ट आई एम एस, बी एच यू )तथा डॉ. जैनब जैदी (सेक्रेटरी एचपीआई यूपी एंड यू के चैप्टर, पूर्व उपनिदेशक एनएबीएच, वर्तमान निदेशक हेल्थकेयर सेक्टर स्किल काउंसिल एवं निदेशक प्रापीशियस हेल्थ केयर सोलूशन्स रहे।
एचएसपीएल एक कंसल्टेंसी संस्था है जो अस्पतालों को एनी बीएच, क्यूसीआई, एनएबीएल जैसे मान्यताओं के मापन के लिए तैयार कर आता है. इसके अतिरिक्त प्रोपिशस अस्पतालों को ट्रेनिंग प्रोग्राम, कंस्ट्रक्शन, ऑडिट एवं विभिन्न किस्म के मूल्यांकन एवं मैनेजमेंट आउट सोर्स में सहायता प्रदान करता है
एचपीआई एक नॉनप्रॉफिट संस्था है, जो संपूर्ण देश के लगभग 40000 अस्पतालों एवं चिकित्सकों का संगठन हैI यह संस्था संपूर्ण देश के चिकित्सक चिकित्सकीय संगठनों के समस्याएं एवं उपलब्धियां राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत करता है, तथा चिकित्सा के क्षेत्र में से ट्रेनिंग प्रोग्राम संचालित करता हैI
इस अवसर पर लाइफ लाइन हॉस्पिटल के वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉक्टर अनूप कुमार सिंह, डॉ गायत्री कुमारी (एनेस्थेटिक, इंटेंसिव एवं क्रिटिकल केयर डिपार्टमेंट), डॉक्टर रामा देसाई (फिजीशियन,एमडी मेडिसिन),डॉ सुमन यादव(ओरल एवं मैकसिलो फेशियल सर्जरी), डॉ शंकर बाबू (एनेस्थेटिक), एवं लाइफ लाइन हॉस्पिटल के अन्य सीनियर डॉक्टर व मैनेजमेंट स्टाफ उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता एवं संचालन तथा अतिथियों का सम्मान प्रबंध निदेशक डॉ पीयूष कुमार सिंह द्वारा किया गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment