.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मेहनाजपुर: दो जिलों के सीमावर्ती गांवों में अलग-अलग स्थानों से मां-बेटी की लाशें मिली,मची सनसनी

आजमगढ़ और गाज़ीपुर की सीमा में मिली दोनों लाशें, हत्या की आशंका,पुलिस जांच में जुटी   

मेहनाजपुर :आजमगढ़ : आजमगढ़ व गाजीपुर जिले के सीमावर्ती गांव के समीप अलग-अलग स्थानों से रविवार को दिन में मां-बेटी के शव मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों ने दोनों की हत्या करने की आशंका जताई है। मेहनाजपुर थाना क्षेत्र के ढाखा (ढकवा) गांव निवासी 40 वर्षीय नूरन निशां पत्नी निसार अपने बच्चों के साथ परिवार से अलग रहती है। परिजनों का कहना है कि शनिवार की रात लगभग साढ़े नौ बजे नूरन निशां की पुत्री 18 वर्षीय गजाला घर से बाहर निकली। कुछ देर बाद पीछे से उसकी मां भी घर से निकल गई। परिवार से अलग रहने के चलते किसी ने उन दोनों की तलाश नहीं की। रविवार को दिन में लगभग 11 बजे मेहनाजपुर क्षेत्र के ढाखा गांव के सिवान में स्थित धान के खेत में नूरन निशां की लाश मिली। कुछ देर बाद यहां से लगभग एक किमी दूर गाजीपुर के सादात थाना क्षेत्र के मलौरा गांव स्थित डिग्री कालेज के पास कीचड़ में सनी उसकी बेटी गजाला की लाश देख ग्रामीण सन्न रह गए। ग्रामीणों की सूचना पर मेहनाजपुर व सादात थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। छानबीन के बाद मेहनाजपुर पुलिस ने मां व सादात थाने की पुलिस ने बेटी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। ग्रामीणों का कहना है कि बेटी का सिर कीचड़ में धंसा हुआ था, जबकि उसकी मां के मुंह से झाग निकल रहा था। पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण ज्ञात हो सकेगा। मां-बेटी की मौत से ग्रामीण सकते में, परिवार में कोहराम मचा हुआ है। वहीँ ढकवा गांव की निवासी एक महिला व उसकी पुत्री की मौत से ग्रामीण सकते में हैं। मृत नूरन निशां का पति रोजी-रोटी के लिए एक वर्ष पूर्व घर से सऊदी गया और वहीं रहता है। उसके तीन पुत्री व एक पुत्र हैं। पुत्रियों में 18 वर्षीय गजाला, 9 वर्षीय शबनम, 7 वर्षीय मुगरन व 5 वर्षीय पुत्र साहिल हैं। निसार की पत्नी नूरन निशां अपने बच्चों के साथ परिवार से अलग रहती है। सास अमीना व ससुर निजामुद्दीन भी मां-बेटी की मौत से सदमे में हैं। वहीं कुछ ग्रामीण उनकी हत्या के पीछे प्रेम प्रपंच होना मान रहे हैं। मेहनाजपुर थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर रामायण का कहना है कि शाम तक कोई तहरीर नहीं मिली है। अगर परिवार की ओर से तहरीर मिलती है तो मुकदमा दर्ज कर लिया जाएगा। मां व बेटी की मौत से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment