.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

विश्वकर्मा समाज में रामआसरे विश्वकर्मा से बडा नेता न कोई हुआ और न होगा-धर्मेन्द्र यादव,सांसद


भाजपा सरकार ने विश्वकर्मा पूजा की छुट्टी को निरस्त कर भगवान विश्वकर्मा का अपमान किया है -रामआसरे विश्वकर्मा,पूर्व मंत्री 

समाजवादियों ने मनाई पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की जयन्ती

आजमगढ: विश्वकर्मा समाज के गौरव पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह की जयन्ती के अवसर पर आयोजित जयन्ती समारोह के मुख्य अतिथि सांसद धर्मेन्द्र यादव ने कहा कि विश्वकर्मा समाज से मेरा छात्र जीवन से लेकर पार्टी की स्थापना तक का रिश्ता रहा है। विश्वकर्मा समाज के लिए हम और हमारा पूरा परिवार सदैव आपके साथ है। आप सभी को बता देना चाहता हू कि विश्वकर्मा समाज में श्री रामआसरे विश्वकर्मा से कोई बडा नेता न कोई हुआ और न कोई होगा।पूर्व शिक्षामन्त्री अखिल भारतीय विश्वकर्मा शिल्पकार महासभा के राष्ट्रीयअध्यक्ष रामआसरे विश्वकर्मा ने कहा कि ज्ञानी जैल सिंह समाजवादी विचारधारा पर चलकर संघर्ष करते हुए देश के राष्ट्रपति पद तक पहुचे थे। समाजवादी रास्ते पर चलकर नाई परिवार के कर्पूरी ठाकुर बिहार में मुख्यमन्त्री बन सकते हैं तो विश्वकर्मा समाज के लोग सरकार मे मन्त्री क्यों नही बन सकते।विश्वकर्मा समाज को हीनता की भावना त्याग कर राजनीति में आगे आये। राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री विश्वकर्मा ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने रामआसरे विश्वकर्मा को मन्त्री बनाया और विश्वकर्मा समाज को सरकार में भागीदारी दी तथा देश में विश्वकर्मा समाज का सम्मान बढाया।देश के इतिहास में प्रथम बार भगवान विश्वकर्मा के पूजा दिवस 17 सितम्बर का सार्वजनिक अवकाश घोषित करके विश्वकर्मा समाज की पहचान बनायी। भाजपा सरकार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विश्वकर्मा पूजा की छुट्टी को निरस्त कर भगवान विश्वकर्मा का अपमान कर दिया। भाजपा राज में सभी को अपमानित किया जा रहा है।हमें अपने अपमान का बदला लेने के लिये भाजपा को हराना होगा और सपा बसपा गठबन्धन के प्रत्याशी श्री अखिलेश यादव जी को जिताकर अपना सम्मान पुन: बनाना होगा।श्री विश्वकर्मा ने कहा कि भाजपाराज में पिछडो और विश्वकर्मा समाज के ऊपर उत्पीडन और अत्याचार हो रहा है।समाज की जमीनो और मकानों पर कब्जा हो रहा है लेकिन न तो सरकार सुनवाई कर रही है और न पुलिस कारवाई कर रही है।सपा सरकार में विश्वकर्मा समाज के बेरोजगार लोगो को वर्कशाप और कुटीर उद्योग लगाने हेतु ग्रामसभा की जमीन का पट्टा देने और इण्टर पास विश्वकर्मा समाज के युवको को आईटीआई का प्रमाणपत्र जारी करने का शासनादेश जारी किया गया था जो भाजपाराज में समाप्त कर दिया।भाजपा ने पिछडो का आरक्षण समाप्त कर दिया अब किसी दलित पिछडे को नौकरी नही मिलने वाली है।श्री विश्वकर्मा ने अपील की कि लोकसभा के चुनाव में श्री अखिलेश यादव को लाखो मतो से जिताकर आजमगढ का सम्मान बढाये। सभीसमारोह का संचालन दिनेश विश्वकर्मा तथा अध्यक्षता इं० रामनयन शर्मा ने किया। कार्यक्रम में पूर्वमंत्री बलराम यादव, पूर्वमंत्री दुर्गा प्रसाद यादव, सपा जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ,राम अवतार विश्वकर्मा, चेयरमैन वीरेन्द्र ,विश्वकर्मा महासभा के कार्यवाहक जिलाध्यक्ष रामप्रकाश विश्वकर्मा, श्रीराम विश्वकर्मा, पतरूराम विश्वकर्मा ,राम आशीष विश्वकर्मा, राम सिंगार विश्वकर्मा, प्रधान हरिकेश विश्वकर्मा, सुनील दत्त विश्वकर्मा, संतरलाल विश्वकर्मा, राम आशीष विश्वकर्मा, एडवोकेट सुनील शर्मा, जगदीश यादव, युवाध्यक्ष शशिकान्त विश्वकर्मा, महातमा विश्वकर्मा, विनोद विश्वकर्मा सहित कई नेताओं ने सम्बोधित किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment