.

.

.

.

.

.

.

.

,

,

.

.
.

अखिलेश भैया नाचने गाने वाले के बारे में अपने बाबू से पूछिहा -निरहुआ

योगी जी ने वादा किया है हम जीते तो आजमगढ़ में ही बनेगी फिल्म सिटी ,चुनाव बाद विश्विद्यालय निर्माण का कार्य शुरू होगा - दिनेश लाल यादव निरहुआ प्रत्याशी , भाजपा

आजमगढ़: खरिहानी में आयोजित भाजपा की चुनावी जनसभा में भोजपुरी सिने स्टार दिनेश लाल निरहुआ ने जैसे ही मंच पर संबोधन के लिए बढ़े तो स्म्रतालकों का उत्साह सातवें आसमान को छूने लगा। जनता की नब्ज को भापते हुए दिनेश लाल यादव निरहुआ ने सवाल से शुरूआत करते हुए कहा कि निरहुआ हिन्दुस्तानी के फैन बताइये कि कौन बनेगा 2019 का प्रधानमंत्री, इसके बाद उन्होंने ठेठ भोजपुरी में भी पूछा कि के बनी प्रधानमंत्री। इतना आवाज आते ही समर्थकों का जोश और बढ़ गया। निरहुआ ने कहा कि जवन पूरा देश चाहत बा बल्कि पूरा दुनिया चाहता बा कि भारत मां के सपूत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री बने। निरहुआ राजनीति में केवल देश के लिए आया है। कुछ लोग प्रश्न कर रहे है कि नेता बन जइबा त फिल्म कइसे बनी। योगी बाबा मुझ से वादा किये है कि आजमगढ़ की जनता मुझे चुनेगी और मुम्बई फिल्म सीटी को ही आजमगढ़ लायेंगे मतलब निरहुआ अब मुम्बई ना जाई। अखिलेश बड़े भाई है उन्होंने मुझे नांचने-गाने वाला कहाँ वे अपने बाबू से पूछे कि 2003 में जब निरहुआ के पास टूटी चप्पल और टूटी हुई गाडी थी तो वह समाजवादी पार्टी के एक कार्यक्रम में बुलाया गया था। उस समय में निरहुआ थोड़ा लेट पहुंचा तो सपा के शीर्ष नेतृत्व की मौजूदगी के बावजूद वहां पर हमारे पहुंचते ही जमकर तालियां बजने लगी। तब अखिलेश यादव राजनीति में नहीं थे। उस समय ही नेता जी ने पूछा कि कौन है ये इसे तो यश भारती दो, ये पूर्वाचल का हीरो बनी। अब वहीं यश भारती देने वाले सवाल उठा रहे है। अगर, निरहुआ के मां-बाप देश के खिलाफ होंगे उनसे भी निरहुआ लड़ जायेगा। देश हित पर निरहुआ ने केहूं जवन किया नहीं करके दिखायेंगे अपने चर्चित गीत को सुनाया।
इसके बाद निरहुआ सीधे अखिलेश यादव पर प्रहार करते हुए कहा कि 1947 में ही देश आजाद हुआ मगर आज भी लोग गुलामी करवा रहे है। नौजवानों को अपने पीछे रखकर इधर-उधर किया जाता है। संगठन अच्छी चीज है सभी जातियों का संगठन होना लेकिन उसका सुदुपयोग करते हुए उसे देश हित में खड़ा होना चाहिए। पाकिस्तान चाह रहा है कि मोदी देश के प्रधानमंत्री न बनें और यही बात अखिलेश यादव भी चाहते है। मोदी ने संसद में कहा कि न खाउंगा न खाने दूंगा और न लूटन न लूटे देब, मोदी 18 घंटे काम करते है, सांसदों से कहते है कि अपने क्षेत्र में काम कीजिए। वहीं विपक्षी तनी तू लूटा ला, तनी तू लूट ला को बढ़ावा देने में विश्वास रखते है। यही बात अखिलेश यादव को बुरी लगती है वे खुद प्रधानमंत्री की रेस में खुद को बाहर रखते है लेकिन आजमगढ़ से चुनाव लड़कर आजमगढ को पीछे ढकलने का काम कर रहे है। उनके बाबू जी सदन में खुद बोले कि हमारी सरकार तो बनेगी नहीं, जो देश के साथ लेकर चल रहा है नरेन्द्र मोदी फिर से चुनाव जीतकर सरकार चलायेंगे। जब नेता जी ने खुद मन बना लिया है लेकिन अखिलेश भइया खिलाफ है।
निरहुआ यहीं नहीं रूके, उन्होंने अपने सपने का जिक्र किया कि मेरे सपने में नेता जी आये थे हमने उन्हें पण्राम किया और उनसे कहा कि आप भी हमको रोकने आये है तो नेता जी ने हमसे कहा कि सही हो तुम, चपले हवे चपले रहा। हमार लड़का हमार बतिया न समझी, हम कहब पूरब तो उ चली पश्चिम। देशहित में भले ही अखिलेश न हमा लेकिन तू भी हमार लक्ष्का हवा आजमगढ़से अखिलेश के हरा कर संसद पहुचां।
जनता की मांग पर उन्होंने करिहा सोच के मतदनवा मेरे देश के लोग, नाही तो देशवां बेच दिहे बेईमनवा मेरे देश के लोग सुनाया तो हर तरफ निरहुआ भईया जिन्दाबाद के नारे लगने लगे।
उन्होंने कहा कि दौड़ के नाम पर नौकरी देने वाले लोग असल में आजमगढ़ के युवाओं को अनपढ़ बनाने की साजिश रच रहे है। अखिलेश चाहते है कि ये भ्रमित अनपढ़ युवा बोले कि खूनवा में अखिलेश...खूनवा में अखिलेश की रट लगाये और उनकी राजनीति चमकाने का काम करें। इसके बाद उन्होंने एक कहानी सुनाकर अखिलेश वादी व्यवस्था पर करारा तंज कसा। सीएम ने वादा किया है कि जैसे ही चुनाव खत्म होगा वे आजमगढ़ के विकास के लिए विविद्यालय का निर्माण शुरू करा देंगे। भाजपा सबको शिक्षा देना चाहती है किसी को गुलाम नहीं बनाना चाहती। इसके बाद उन्होंने कहा कि उजरी में जो सपा रूपी कंकड़ बटोरे है उसे फेंककर भाजपा रूपी हीरा रत्न को पहचानिये।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment