.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़ : मण्डलायुक्त ने किया मनरेगा की समीक्षा, प्रगति कम मिलने पर सुधार के दिये निर्देश

आज़मगढ़ 7 मार्च -- मण्डलायुक्त जगत राज द्वारा मण्डल में शासन की महत्वपूर्ण योजनाओं की प्रगति की नियमित रूप से की जा रही समीक्षा के क्रम में वृहस्पतिवार को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी योजना (मनरेगा) की प्रगति समीक्षा की गयी। समीक्षा में पाया गया कि मनरेगा के अन्तर्गत जनपद आज़मगढ़ में लक्ष्य के सापेक्ष 90 प्रतिशत एवं मऊ में 79 प्रतिशत मानव दिवस का सृजन किया गया है, जबकि मानव दिवस सृजन का राज्य औसत 98 प्रतिशत है। इसी प्रकार इस योजना के अन्तर्गत विलम्बित भुगतान की स्थिति जनपद में 16.95 प्रतिशत एवं बलिया में 21.33 प्रतिशत है, जबकि विलम्बित भुगतान में राज्य औसत 10.60 प्रतिशत है। मनरेगा के अन्तर्गत मानव दिवस में लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति कम होने के कारण आज़मगढ़ की रैंकिंग 48 एवं मऊ की 67 है। इसी प्रकार विलम्बित भुगतान में आज़मगढ़ की रैंकिंग 64 एवं बलिया की 71 है, जो काफी खराब है। उन्होंने तीनों जनपदों के जिलाधिकारियों को वर्तमान वित्तीय वर्ष तक के निर्धारित लक्ष्य के सापेक्ष 20 मार्च तक अनिवार्य रूप से शत प्रतिशत मानव दिवस सृृजन किये जाने तथा इसमें जिस स्तर पर लापरवाही की जा रही है उनके विरुद्ध कार्यवाही करते हुए अवगत कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि विलम्बित भुगतान का प्रतिशत राज्य औसत से कम रखे जाने हेतु कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाय।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment