.

.

.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ़: भावी विश्वविद्यालय जिला मुख्यालय से दूर होगा तो होगा आंदोलन,अपर जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

छात्रों ने सवाल उठाया की जब जिला मुख्यालय के आस पास जमीनें उपलब्ध हैं तो लालगंज व मार्टीनगंज के लिये प्रयास क्यों किया जा रहा है

आजमगढ़। शिब्ली कालेज व चण्डेश्वर पीजी कालेज के छात्र नेताओं आजमगढ़ में भावी विश्वविद्यालय को जिला मुख्यालय के करीब बनवाने के लिये ज्ञापन सौंपा और चेतावनी दी कि यदि विश्वविद्यालय दूर गया तो उग्र आंदोलन होगा। अपर जिलाधिकारी नरेंद्र सिंह को श्री दुर्गा जी पी0जी0कालेज के छात्र संघ अध्यक्ष संदीप कुमार और शिब्ली कालेज के छात्रनेता समर प्रताप सिंह के नेतृत्व में प्रतिनिधिमण्डल ने ज्ञापन सौंपा। 
इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रनेता निशान्त राय टीपू ने कहा कि जब अन्य जिलों में 40-50 एकड़ में विश्वविद्यालय बन चुका है तो आजमगढ़ में 100 एकड़ जमीन क्यों तलाश की जा रही है। छात्रनेता अमित कुमार सिंह ने कहा कि जब जिला मुख्यालय के आस पास जमीनें उपलब्ध हैं तो लालगंज व मार्टीनगंज के लिये प्रयास क्यों किया जा रहा है। वैसे भी लालगंज के समीप ही जौनपुर में वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय स्थित है। यदि विश्वविद्यालय मुख्यालय से दूर बना तो इसके खिलाफ उग्र आंदोलन होगा। छात्र नेता अभिषेक राय ने कहा कि लालगंज के लोग जिला बनाने की मांग कर रहे है। यदि लालगंज जिला बन गया तो आजमगढ़ मण्डल मुख्यालय होने के बाद भी आजमगढ़ विश्वविद्यालय विहीन ही रहेगा। सौरभ यादव ने कहा कि आक्रोश इस बात को लेकर भी है कि लम्बे आंदोलन के उपरांत प्रदेश सरकार ने आजमगढ़ में राज्य विश्वविद्यालय की घोषणा की है इसको लेकर राजनीति नहीं होनी चाहिये। जिले के दूर दराज के छात्र छात्राओं के हितों को ध्यान रखते हुए मुख्यालय के निकट ही विश्वविद्यालय बने। मुख्यालय के करीब की 60-150 एकड़ तक की जमीनों की सूची कई बार सौपी गई है।
प्रतिनिधिमण्डल में अवनीश राय, सीटू चैबे, धर्मेंद्र यादव, अविनाश सिंह, संतोष सिंह, विशाल दुबे, राजेश यादव, राजेंद्र कुमार, रूदल सोनकर, गुलाब चंद गौतम, कैलाश प्रसाद आदि उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment