.

.

.

.

,

,
.

आजमगढ़: अपनी आठ सूत्रीय मांगों को लेकर तीन दिवसीय हड़ताल पर गए बीएसएनएल कर्मी

बीएसएनएल के कर्मियों को मजबूर होकर धरना  और हड़ताल करना पड़ रहा है-आनन्द सिंह, सचिव  

आजमगढ़: बीएसएनएल कर्मचारियों ने अपनी आठ सूत्रीय मांगों को लेकर सोमवार से आल यूनियन एवं एसोसिएशन के आहवान् पर सी-डॉट परिसर में तीन दिवसीय हड़ताल की शुस्आत कर दिया है। इस दौरान कर्मचारियें ने सरकार विरोधी नारेबाजी करते हुए नाराजगी जतायी।
बीएसएनएलईयू के सचिव आनन्द सिंह ने कहाकि हमारी आठ सूत्रीय मांग लम्बे अर्से से लंबित है सरकार इस पर ध्यान नही दे रही है। बीएसएनएल के कर्मचारियों को मजबूर होकर धरना प्रदर्शन और हड़ताल करना पड़ रहा है। कर्मचारियों को 15 प्रतिशत फिटनेस के साथ ही तीसरा वेतन संसोधन का लाभ 1 जनवरी 2017 से मिलना चाहिए। जो कर्मचारी सेवानिवृत्त हो गये है उनकी पेंशन का अभीतक संशोधन नही किया गया है। जिसके कारण कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। उन्होंने कहाकि नाम परिवर्तन और संशोधन कमेटी के शेष मुद्दों का न तो निष्तारण किया गया और न ही बीएसएनएल भूमि प्रबंधन नीति का अनुमोदन ही किया गया।
अवनीश सिंह व गुलाब राय सरकार के उपेक्षात्मक रवैये के कारण कर्मचारियों में रोष है। जब तक हमारी मांगों को पूरा नही किया जाएगा हमारा आंदोंलन चलता रहेगा। उन्होंने चलने वाले तीन दिवसीय हड़ताल में कर्मचारियों से अपनी एक जुटता दिखाने की अपील किया। कहाकि बीएसएनएल की स्थापना के समय ग्रुप आफ मिनिस्टर्स द्वारा किये गये निर्णयानुसार बीएसएनएल की वित्तीय जीवन्तता सुनिश्चित करने हेतु वित्तीय सहयोग दिया जाए। बीएसएनएल के बैंक से ऋण लेने के लिए प्रस्ताव हेतु ‘‘लेटर आफ कम्फर्ट‘‘ जारी किया जाए। बीएसएनएल बोर्ड आफ डायरेक्टर्स के सभी रिक्त पदों पर शीघ्र नियुक्ति की जाए साथ ही बीएसएनएल के मोबाइल टावर्स का आउट सोर्सिग के माध्यम से संचालन व रखरखाव का प्रस्ताव रद्द किया जाये। उन्होंने कहाकि अगर हमारी मांगों को जल्द से जल्द पूरा नही किया गया तो आंदोलन और तेज किया आएगा।
इस अवसर पर हरिदरश राय, भारतीय मजदूर संघ के जिला सचिव धर्मेन्द्र सिंह, अरविन्द मौर्य, मिलन पाण्डेय, प्रतिमा सिंह, रामफेर राम, ओ. पी. सिंह, बी. एन. यादव, एस. के. सिंह, हीरा लाल, गौरव सिंह, प्रथमा नन्द सिंह, पंचानन्द राय, आर. के. यादव, महेश कुमार, प्रशान्त यादव, यशवन्त सोनकर, नीलम, राजपति देवी, किसमती देवी, तौफिक आलम, राजा राम, श्याम नारायण यादव, अशोक यादव, घन श्याम प्रजापति, शिव शंकर, सुबास श्रीवास्तव, एस. पी. पाण्डेय, अमरजीत यादव, अमरिश द्धिवेदी, चन्द्रसेन सिंह, यू. के. सिहं, संतोष सिंह, सुनील उपाध्याय, सुनील सिंह, नरेन्द्र प्रजापति, मदन लाल यादव, राम भुवाल, आर. पी. सोनकर, सुनील सिंह, बुजराज, हरि राम मौर्य, श्याम बचन, अब्दुल हन्नान, राम दरश भारती, छेदी लाल, पुन्नु लाल, जंगशेर सिंह, नन्द लाल यादव, सुनील चौहान, विवेक विश्वकर्मा, सुभाष सोनकर, दीपचन्द, निर्भय नारायण सिंह, अशोक तिवारी, मुन्नी लाल यादव, राम आशीष यादव, एस. पी. सिंह, हरेन्द्र दूबे, सुधाकर पाण्डेय आदि लोग सपरिवार शामिल रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment