.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

ठण्ड से हुई मौत तो लेखपाल, पूर्ति निरीक्षक व प्रधान होंगे जिम्मेदार -जिलाधिकारी

 रेन बसेरों पर अस्थायी आवास, भोजन व कम्बल आदि की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित कर ली जाय-डीएम 

आजमगढ़ 21 दिसम्बर 2018-- जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी ने बताया है कि वर्तमान में शीतलहरी से उत्पन्न होने वाली समस्याओं के दृष्टिगत निराश्रित एवं असहाय तथा कमजोर वर्ग के असुरक्षित व्यक्तियों को राहत पहुंचाने के लिए नगर पंचायत, नगरपालिका परिषद एवं ग्रामीण क्षेत्रों के प्रमुख रैन बसेरा/शेल्टर होम्स पर सीआरएफ गाईड लाइन के अनुसार यथोचित कार्यवाही करते हुए अस्थायी आवास, भोजन व कम्बल आदि की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित कर ली जाय।जिलाधिकारी ने कहा है कि सभी उप जिलाधिकारी सुनिश्चित कर लें कि लेखपाल व राजस्व निरीक्षक अपने-अपने क्षेत्र में उपलब्ध रहें एवं निर्बल, निराश्रित एवं असहाय तथा कमजोर वर्ग के अनसुरक्षित व्यक्तियों को चिन्हित करते हुए आवश्यकता के अनुसार उन्हंे पर्याप्त खाद्यान्न, वस्त्र व चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करवा दें। यदि किसी भी व्यक्ति की ठण्ड या भूखमरी से या उपचार के अभाव में मृत्यु होने को प्रकरण संज्ञान में आता है तो उसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी संबंधित क्षेत्र के लेखपाल व पूर्ति निरीक्षक व ग्राम प्रधान की होगी।
उन्होने कहा कि जनपद में यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु ठण्ड या उपचार के अभाव में होती है तो लेखपाल, पूर्ति निरीक्षक व ग्राम प्रधान को दोषी मानते हुए उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment