.

.

.

.

,

,
.

सीडीओ की अध्यक्षता में विराट किसान मेले का हुआ समापन

किसान मेले मे दी गयी तकनीकी जानकारियों को अपनी खेती में अपनाये तो जरूर लाभ होगा 

आजमगढ़ 28 नवम्बर 2018-- जनपद में कृषि विभाग द्वारा आयोजित आई0टी0आई0 मैदान में एग्रो क्लाइमेटिक जोन स्तरीय तीन दिवसीय विराट किसान मेले का समापन मुख्य विकास अधिकारी कमलेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी के द्वारा किसानों को सलाह दी गयी कि किसान भाई अपने खेतों में फसलों के अवशेष को न जलायें, इससे पर्यावरण प्रदूषित होता है तथा आप सभी के खेतों की उर्वरा शक्ति मे भी कमी आती है। उनके द्वारा किसानों का आहृावन किया गया कि फसलों के अवशेष को आप सभी अपने खेतों में कृषि विभाग द्वारा उपलब्ध कराये जा रहे आधुनिक कृषि यन्त्रों के माध्यम सें मिट्टी में मिलायें इससे आप सभी के भूमि की उर्वरा शक्ति मे वृद्धि होगी तथा पर्यावरण भी स्वस्थ्य रहेगा। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी के द्वारा 15 किसानों को माइक्रो न्यूट्रीयेन्ट जिंक देकर सम्मानित किया गया।
कृषि विज्ञान केन्द्र कोटवा आजमगढ़ के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा0 रणधीर नायक किसानों को गेहूं की बुआई पंक्ति में करने की सलाह दी गयी तथा तिलहनी फसलों के उत्पादन में वृद्धि करने हेतु सल्फर का प्रयोग करने का सुझाव दिया।
प्रजापति ब्रम्हाकुमारी श्रीमती बी0के0 अनीता ने तन, मन को स्वस्थ्य रखने के लिये तथा मानसिक शारीरिक स्वास्थ्य को बनाये रखनें में यौगिक खेती को अपनाने की सभी को सलाह दी।
कृषि विज्ञान केन्द्र कोटवा आजमगढ़ के वरिष्ठ वैज्ञानिक डा0 आर0के0 आनन्द ने किसानों को सलाह दी कि हम सभी को यदि आने वाली पीढ़ी को कुछ देना है तो जल, जमीन, जंगल एवं जानवरों को बचाये रखना होगा अन्यथा कि स्थिति में पर्यावरण असन्तुलन हो जायेगा।
डा0 आर0के0सिंह वरिष्ठ वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र कोटवा आजमगढ़ ने किसानों की आय दो गुनी करने की रणनीति पर चर्चा करते हुये बताया कि यदि हमें आय बढ़ानी है तो खेती की लागत कम करनी होगी, इसके लिए रासायनिक खादों के प्रयोग को कम करना होगा तथा अधिकाधिक मात्रा में जैविक खादों का प्रयोग करना होगा।
संयुक्त कृषि निदेशक सुरेश कुमार सिंह द्वारा किसानो को कृषि विभाग द्वारा चलाई जा रही सभी योजनाओं के बारे मे विस्तार से जानकारी दी गयी।
उप कृषि निदेषक डा0 आर0के0 मौर्य ने मेले के समापन के अवसर पर सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया और जनपद के सभी किसानों का आहृावन किया कि किसान भी मेले मे दी गयी तकनीकी जानकारियों को अपनी खेती में अपनाये जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी।
इस अवसर पर भूमि संरक्षण अधिकारी संगम सिंह मौर्य, जिला कृषि अधिकारी डा0 उमेश कुमार गुप्ता, कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर0पी0सिंह, एस0पी0 सिंह, डा0 रसूल मोहम्मद, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के सलाहकार डा0 राम केवल यादव एवं हजारों कृषक उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment