.

.

.

.

,

,
.

स्वच्छ भारत मिशन (ग्रा0): विभिन्न बिंदुओं पर ख़राब प्रगति से मंडलायुक्त नाराज ,सुधार के निर्देश

आज़मगढ़ -- मण्डलायुक्त जगत राज ने मण्डल के तीनों जनपदों में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के अन्तर्गत विभिन्न बिन्दुओं की स्थिति खराब पाये जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए जिलाधिकारियों को उन बिन्दुओं की प्रगति समीक्षा कर अपेक्षित सुधार लाने तथा कार्यों मे लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों के विरुद्ध कार्यवाही करने का निर्देश दिया है। मण्डलायुक्त ने बताया कि गत 18 नवम्बर को मा0 मुख्यमन्त्री जी द्वारा वीडियो कांफ्रेन्सिंग के माध्यम से स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) की समीक्षा की गयी थी जिसमें पाया गया था कि जनपद आज़मगढ़ में ओडीएफ घोषित 2015 ग्रामों, बलिया में 1154 एवं मऊ में 882 ग्रामों का जनपद स्तर पर सत्यापन नहीं कराया गया है। इसी प्रकार आज़मगढ़ में बेसालाइन सर्वे में छूटे हुए कुल 109814 परिवारों की फीडिंग होनी है, जिसमें केवल 12267 परिवारों की, बलिया में छूटे हुए 20000 परिवारों के सापेक्ष 12133 एवं मऊ में 46030 परिवारों में से 6030 परिवारों की आनलाइन फीडिंग कराई गयी है। जनपद आज़मगढ़ में कुल 86816, बलिया में 74308 एवं मऊ में 8322 शौचालय अनअप्रूव्ड हैं तथा स्वच्छाग्रहियों को मानदेय के भुगतान की स्थिति आज़मगढ़ में 21.69 प्रतिशत, बलिया में 13.25 प्रतिशत एवं मऊ में 27.23 प्रतिशत है।
मण्डलायुक्त जगत राज ने कहा कि उक्त वीडियो कान्फ्रेन्सिंग में  मुख्यमन्त्री जी द्वारा इन बिन्दुओं की खराब प्रगति को गंभीरता से लेते हुए तीनों जनपदों में सुधार लाने के निर्देश दिये गये थे। उन्होंने कहा कि वीडियो कांफ्रेन्सिंग के माध्यम से की गयी समीक्षा के उपरान्त गत दिवस उनके द्वारा इन बिन्दुओं की पुनः की गयी, जिसमें पाया गया कि एक सप्ताह में आज़मगढ़ में 883, बलिया में 654 एवं मऊ में 338 ओडीएफ ग्रामों का ही सत्यापन कराया गया है। इसी प्रकार बेसलाइन सर्वे में  छूटे हुए आज़मगढ़ में 109814 लाभार्थियों में से केवल 29291, बलिया में 40000 में से केवल 30531 एवं मऊ में 46030 लाभार्थियों में से 25221 की ही आनलाइन फीडिंग की गयी है जो तीनों जनपदों का क्रमशः 26.67 प्रतिशत, 76.33 प्रतिशत एवं 54.79 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि छूटे हुए परिवारों की आनलाइन फीडिंग कराने की समय सीमा 30 नवम्बर है, उसके बाद किसी भी दशा में आनलाइन फीडिंग नहीं करायी जा सकेगी, जबकि शासन द्वारा जनपदों को ओडीएफ किये जाने हेतु भी यही तिथि निर्धारित की गयी है। मण्डलायुक्त ने शौचालयों को अप्रूव्ड किये जाने की स्थिति का जायजा लेते हुए पाया कि एक सप्ताह में आज़मगढ़ में मात्र 8630, बलिया में 31295 एवं मऊ में मात्र 476 अनअप्रूव्ड शौचालय को अप्रूव्ड किया गया है, इस अवधि में तीनों जनपदों में स्वच्छाग्रहियों के भुगतान की स्थिति शून्य पाई गयी। समीक्षा के दौरान मण्डल के जनपदों में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) की प्रगति खराब पाये जाने पर तीनों जनपद के जिलाधिकारियों को इसकी समीक्षा कर प्रगति में सुधार लाने तथा इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों/कर्मचारियों के विरुद्ध कार्यवाही करते हुए अवगत कराने का निर्देश दिया है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment