.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

RKM CAMPUS : दो दिवसीय बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ प्रतियोगिता का हुआं भव्य समापन





बेटियां अपने निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है- उत्पला शुक्ला, निदेशिका इंस्टिट्यूट सोशल डेमोक्रेसी दिल्ली 
स्थान प्राप्त करना इतना महत्वपूर्ण नहीं है कि जितना प्रतियोगिता में प्रतिभाग करना - जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी 
सगड़ी/आजमगढ़। सगड़ी तहसील क्षेत्र के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान बाबू कृष्ण मुरारी सिंह महाविद्यालय में दो दिवसीय बेटी बचाओ - बेटी पढ़ाओ प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। जिनमें 14 विद्यालयों के 600 छात्राओं ने प्रतिभाग किया। जिसमें जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी द्वारा प्रथम,द्वितीय एंव तृतीय स्थान प्राप्त प्रतियोगियों को पुरस्कार वितरित हुआ। प्रतियोगिता को प्रथम दिन दो पालियों में संपन्न कराया गया। जिसमें प्रथम पाली 10:00 से 1:00 बजे द्वितीय पाली 2:00 से 5:00 बजे तक हुई दूसरे दिन बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर गायन, स्त्री बनाम पुरुष पर संवाद और प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता संपन्न हुई । कार्यक्रम के उपरांत जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी द्वारा पुरस्कार वितरण किया गया जिनमें जिलाधिकारी ने आर के एम संस्थान द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम की प्रशंसा की साथ ही प्रतियोगी छात्राओं की भी सराहना की। उन्होने कहा कि प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करना इतना महत्वपूर्ण नहीं है कि जितना प्रतियोगिता में प्रतिभाग करना। टी शर्ट प्रिंटिंग में प्रथम स्थान नेहा मौर्य,निधि मौर्या ने संयुक्त रूप से पाया,वही कविता लेखन में प्रथम स्थान किरण यादव,रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम स्थान आकांक्षा गुप्ता,कविता लेखन में प्रथम स्थान बिंदु मिश्रा,कविता वाचन में प्रथम स्थान अक्षिता पटेल,गायन में प्रथम स्थान साक्षी पांडेय,वाद विवाद में प्रथम स्थान शालिनी सिंह , प्रश्नोत्तरी में प्रथम स्थान प्रज्ञा कुशवाहा ने प्राप्त किया। प्रथम स्थान प्राप्त करने वालों को सर्टिफिकेट व 5 हजार रुपये,द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले को सर्टिफिकेट व 3 हजार रुपये और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले को सर्टिफिकेट व 2 हजार रुपये दिया गया। वहीं सांत्वना पुरस्कार के रुप में सर्टिफिकेट व 1 हजार रुपये भी प्रत्येक प्रतियोगिता में पांच -पांच बच्चों को दिया गया। संस्थान द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ प्रतियोगिता में सभी प्रतिभागियों को भी सर्टिफिकेट प्रदान किया गया। इस दौरान उत्पला शुक्ला निदेशक इंस्टिट्यूट सोशल डेमोक्रेसी दिल्ली नैं अपने संबोधन में प्रतियोगी छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि बेटियों को बराबर का अधिकार हमारे संविधान ने दिया है ,हम अपने निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र हैं। उन्होंने सभी छात्राओं का उत्साहवर्धन किया और भविष्य में और अच्छा करने हेतु प्रेरित किया। कर्यक्रम में जनपद के विभिन्न शिक्षण संस्थानो की छात्राआें ने भाग लिया। जिनमें विक्रम इंटर कॉलेज मोहम्मदपुर , मथुरा राय पी जी कॉलेज , वेदांता इंटरनेशनल स्कूल , मॉडर्न एरा जीयनपुर , जवाहर नवोदय विद्यालय , बाबा नेपाल , राजकीय महिला महाविद्यालय , फाइन आर्ट सेंटर आजमगढ़ , मौलाना आजाद इंटर कॉलेज , के एस इंटर कॉलेज , मिश्रा क्लास , द इंग्लिश स्कूल , मथुरा राय महाविद्यालय के छात्राओं ने प्रतिभाग किया ।
इस अवसर पर मुख्य रूप से प्रबंधक खड़क बहादुर सिंह संस्था के निदेशक डाॅ. सुनीता सहित संस्था के सभी 90 शिक्षक जी जान से लगे रहे। सबके सहयोग कार्यक्रम कुशलतापूर्वक सम्पन्न हुआ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment