.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मदरसों में अगर छात्रवृत्ति फार्म नही भरा तो कार्यवाई तय, एनसीआटी की पुस्तके जरूरी

अतरौलिया/आजमगढ। मदरसा जामिया ईमाम मेहदी आजमगढ के मीटिंग हाल में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों के हित के लिए जारी भारत सरकार की योजनाओं की जानकारी देने के जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी साहित्य निकर्ष सिंह ने जिले के सभी मदरसों के प्रबन्धक एवं प्रिंसपल के साथ एक बैठक की। श्री सिंह ने कहा कि भारत सरकार की मंशा है कि अन्य समुदाय के छात्रों की तरह अल्पसंख्यक समुदाय के छात्र/छात्राएं भी छात्रवृत्ति पायें। जिससे मदरसों में भी छात्र संख्या बढे। इसलिए सभी मदरसों के प्रबंधक अपने अपने मदरसों से छात्रवृत्ति फार्म भर कर छात्र/छात्राओं को लाभान्वित करें।अगर मदरसों में छात्रवृति मिलेगा तो मदरसों में छात्र संख्या बढेगी। उन्होंने सख्त लहजे में कहा कि अगर मदरसे वाले छात्रवृत्ति नहीं भरेंगे तो उनकी तनख्वाह रोक कर उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि आधुनिकी करण के राज्यांश का चार चार महीने की तनख्वाह आ गयी है । मदरसे वाले कार्यपूर्ण कर मानदेय ले जाये। उन्होंने ने आगे बताया कि सभी मदरसों में एन.सी.आर.टी. की किताब हर हाल में चलाया जाय । एन.सी.आर.टी. की किताब अन्य किताबों से सरल और सस्ती है तथा ज्ञानवर्धक है। मदरसे में एन.सी.आर.टी का बोर्ड जरूर लगायें। सरकार की मंशा है कि मदरसों का विकास हो और सरकारी नौकरी में भी भरपूर हिस्सेदारी हो। 15 दिसम्बर तक हर मदरसों में एन.सी.आर.टी तक हर मदरसों में एन.सी.आर.टी सलवेस की किताब लगाना अनिवार्य है अन्यथा उनके खिलाफ कार्यवाही होगी। इस अवसर पर वक्फ इन्कसपेक्टर मनोज कुमार राय,प्रधानलिपिक इरशाद अहमद,प्रबन्धक गण मो.शाहिद, अनीस अहमद,अबूहोजैफा, मो.जमशेद,अब्दुल कलाम,मोलवी शमशेर,रज़्जाक अन्सारी सहित काफी संख्या में मदरसे वाले मौजूद रहे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment