.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

तमसा अभियान: विभिन्न पौधों की औषधीय विशेषताओं पर चर्चा कर किया वृक्षारोपण

आजमगढ़ 30 जुलाई 2018-- जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी के निर्देशन में स्वयं सेवी संस्थाओं द्वारा तमसा महा सफाई अभियान तृतीय चरण के अन्तर्गत 58वां दिन पर भोला घाट पर तुलसी वन, शहतुत वन, बरगद, पीपल, कदम आदि महत्वपूर्ण वनों पर चर्चा करने के बाद पौधरोपण, पौधों की सुरक्षा, ट्री गार्ड की सुरक्षा, लटके हुए पौधों पर बांस लगाना, आदि कार्य किया गया।
भोला घाट पर लगभग 300 जड़ी बूटियों एवं पौधों के बारे में जानकारी रखने वाले मिल्कीपुर, पवई के वन योगी मोतीलाल अग्रहरी गुप्तेश्वर द्वारा विभिन्न प्रकार के पौधों की विशेषताओं के बारे में बताया गया। उन्होने कहा कि जिस तरह से हमारे जिले का नाम ऐतिहासिक और पौराणिक नामों पर अक्सर रहता है, उसी तरह से हमारे जिले के लोग प्रकृति की सुरक्षा की दृष्टि से पेड़ों को नाम से जाने, जैसे-कदम, पीपल, बरगद, पाकड़, कटहल, आम, शहतुत, परिजात, नीम, तुलसी आदि पेड़ों के नाम से एक परम्परा का विकास होगा। जब आम जन मानस प्रकृति के नजदीक जायेंगे तभी पौधों की सुरक्षा होगी और पूरे भारत में एक ऐतिहासिक पहल होगी कि तमसा परिवार में आजमगढ़ के लोगों ने वनों को लेकर एक बहुत ही महत्वपूर्ण पहल की शुरूआत की है। स्वंयसेवी संस्थाओं ने नगरवासियों से अपील किया है कि सभी लोग अपने परिवार के साथ आएं और अपना जन्मदिन तमसा के तट पर पौधारोपण कर मनाये।
इस अवसर पर तमसा महा सफाई अभियान के तृतीय चरण में पूर्वांचल विकास आन्दोलन के संयोजक प्रवीण सिंह, राष्ट्रीय कला संस्थान के अरविन्द चित्रांश, विश्व हिन्दू महासंघ के नगर अध्यक्ष नंद कुमार बरनवाल, अर्चना बरनवाल, शिवानी प्रिंटर्स के नित्यानन्द मिश्रा, डीडी सिंह, मनेन्दर सिंह, बृजेश कुमार, अमित जायसवाल, रितेश गोयल, शैलेश कुमार, हुनर संस्थान से सुनील विश्वकर्मा, ज्ञानेन्द्र मिश्रा, शाहिद जी, रूद्रपुर दुर्गा मन्दिर से सुरेश माली, इनरव्हील क्लब से डाॅ0 अल्का सिंह, सफाई संघ के सीपी यादव, गुलाब चैरसिया, मूलचन्द चैहान, अशोक आदि लोग उपस्थित रहे।
कल दिनांक 31 जुलाई 2018 को 59वां दिन भोला घाट पर पौधरोपण का कार्य प्रातः 6.00 बजे से किया जायेगा। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment