.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

प्रयास ने दुर्दशा के शिकार पार्कों में जा पौधों की सिचाई कर दिखाया आइना

आजमगढ़। पार्को की दुर्दशा से आहत प्रयास सामाजिक संगठन ने पार्को में जाकर पौधों को सींचकर जिम्मेदारों को कुंभकर्णीय निन्द्रा से जगाने का काम किया और जिला प्रशासन से मांग किया कि वातावरण को शुद्ध करने के लिए आवश्यक कदम उठाये।
प्रयास संगठन के सचिव इंजी सुनील यादव ने कहा कि मंडल मुख्यालय पर स्तरीय पार्क का नितांत अभाव है और पार्को के नाम पर जिनकी स्थापना हुई है उनकी दुर्दशा जगजाहिर है। इसलिए रविवार को प्रयास टीम ने तिरंगा पार्क पर पहुंचकर पौधों में पानी देकर रखरखाव के प्रति लोगों का ध्यान आकृष्ट कराया। जनपद के पार्को की बात की जाये तो सीमित जगहों मंे पार्क बनाकर दायित्वों के प्रति इतिश्री कर ली गयी है। इसलिए संगठन की मांग है कि प्राचीन जेल की भूमि पर इको फ्रेडली पार्क बनवाया जाये ताकि शहरवासी शुद्ध वातावरण में सांस ले सके।
संवेदना प्रकाश ने कहा कि इटौरा में मंडलीय जेल स्थापित होने के बाद ऐतिहासिक जेल आज उपेक्षा का शिकार हो गया है हालत है जिला प्रशासन के नाक के नीचे आज उसमे असामाजिक तत्व डेरा डाले हुए है, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके साथ ही पालिका, उद्यान विभाग, आजमगढ़ विकास प्राधिकरण जैसे महत्वपूर्ण विभाग मूकदर्शक बने हुए है और दिन प्रतिदिन आजमगढ़ उपेक्षित होता चला जा रहा है।
अभिषेक सिंह नीरज ने कहा कि हरा भरा आजमगढ़, सुन्दर आजमगढ़ महज स्लोगनों तक सीमित हो चुका है। नगर की काया बदलने के लिए प्रयास टीम पूरजोर प्रयास करेगी। प्रदूषण से निपटने के लिए जिला प्रशासन आज तक कोई भी सार्थक कदम नहीं उठाया, जो दुर्भाग्यपूर्ण है।
इस अवसर पर अतुल श्रीवास्तव, डा हरगोविन्द विश्वकर्मा, आशीष यादव, विराट श्रीवास्तव, भोलू दुबे, शम्भू दयाल सोनकर, राजू शर्मा अभिमन्यु, रविशंकर सिंह आदि लोग सदस्य मौजूद रहे। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment