.

.

.

.

.

.

.

.
.

ग्राम स्वराज अभियान में 118 गावों में मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण सफल बनाना है -डीएम


आजमगढ़:: - जिलाधिकारी शिवाकान्त द्विवेदी की अध्यक्षता मे कलेक्ट्रेट सभागार मे ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत 118 ग्राम मे प्रस्तावित विशेष सघन मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम (23 अप्रैल से 27 अप्रैल तक) को सफल क्रियान्वयन हेतु जिला टास्क फोर्स/समन्वय की बैठक सम्पन्न हुई। इस अवसर पर प्रजेन्टेशन के माध्यम से 118 गांवो मे विशेष सघन मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु कार्ययोजना को विस्तार से बताया गया। 
जिलाधिकारी ने एएनएम/आशा/आंगनवाड़ी को निर्देशित करते हुए कहा कि 0 से 2 वर्ष तक के बच्चों के टीकाकरण हेतु हेड काउन्ट सर्वे प्रपत्र तथा गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण हेतु सर्वे प्रपत्र समय सीमा के अन्दर भरकर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि ड्यू लिस्ट बनाने मे किसी प्रकार की शिथिलता बर्दास्त नही की जाएगी। ड्यू लिस्ट शत प्रतिशत सही होना चाहिए तथा ड्यू लिस्ट इस प्रकार से होना चाहिए कि कोई भी बच्चा टीकाकरण से न छूटे।
जिलाधिकारी ने बताया कि 118 गांवों को जांच करने हेतु नोडल अधिकारी नामित किया गया है। जिलाधिकारी ने सीएमओ को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्राम वार सत्र तथा कर्मचारियों के नाम व मोबाइल नम्बर के साथ चेक लिस्ट बनाकर नोडल अधिकारी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें ताकि नामित किए गये नोडल अधिकारी उक्त गांवो मे रैन्डम आधार पर गांवो की जांच कर सके, कि योजनाओं का कितना अनुपालन किया जा रहा है। उन्होने कहा कि एएनएम का प्रशिक्षण तथा ब्लाक/ग्राम पंचायत स्तर पर ग्राम सभा की बैठक कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि आशाओं द्वारा अभियान के एक दिन पूर्व मदर्स मीटिंग्स भी करायी जाए।
जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि अभियान के दौरान सारे विद्यालय खुले रहेंगे तथा अध्यापक/प्रधानाचार्य को ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत संचालित किए जा रहे योजनाओं के बारे मे विस्तार से बतायें। जिलाधिकारी ने आईसीडीएस विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि ग्राम स्वराज अभियान को सफल बनाने हेतु आंगनवाड़ी, कार्यकत्री, मुख्य सेविका तथा सीडीपीओ अपनी-अपनी सहभागिता सुनिश्चित करें तथा इस अभियान को शत प्रतिशत सफल बनायें  इसी क्रम मे जिलाधिकारी ने समस्त आशा/एएनएम/आंगनवाड़ी कार्यकत्री को निर्देशित करते हुए कहा कि उक्त 118 ग्रामो मे गम्भीर कुपोषित बच्चों का चिन्हांकन करें तथा आवश्कता पड़ने पर गम्भीर कुपोषित बच्चों को एनआरसी पर रेफर कराना सुनिश्चित करें ताकि उक्त गांव को कुपोषण मुक्त किया जा सके। 
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ0 एसके तिवारी, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी संजय कुमार गुप्ता, डाॅ0 वाईके राॅय, डब्ल्यूएचओ के भवानी गुनटा, यूएनडीपी की पूनम शुक्ला, यूनीसेफ के एसएन सिंह, संबंधित प्रभारी चिकित्साधिकारी, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी तथा एमओआइसी तथा सीडीपीओ उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment