.

.

.

.

.

.

.

.
.

जहानागंज: चोरी का आरोप लगा बाजार में गधे पर युवक को घुमाने वाला एक गिरफ्तार

अन्य आरोपी हुए फरार, चोरी का नहीं निकला मामला 
जहानागंज :आजमगढ़: कहते हैं की पुलिस अगर चाह जाए तो अपराधी आकाश व पाताल कहीं से भी पकड़ा जा सकता है, यही कहावत आजमगढ़ में चरितार्थ होते दिखी जब एक वायरल वीडियो की बारीक जांच कर पुलिस ने मानवता और व्यवस्था को शर्मसार करने वाली घटना को खोल कर रख दिया। बात हो रही है जहानागंज थाना क्षेत्र में एक युवक को चोरी के आरोप में मारपीट ,गधे पर बैठाने की घटना की। घटा का मीडिया से संज्ञान मिलते ही पुलिस कप्तान के निर्देश पर सक्रिय हुई पुलिस ने  कार्यवाही करते हुए यह जानकारी दी की जहानागंज थाने के डीहा बाजार में बुधवार को युवक को चोरी के आरोप में नहीं बल्कि चाय समोसा का उधार पैसा न देने पर दुकानदार सहित अन्य लोगों ने बंधक बनाया था और फिर मुंह पर कालिख पोत कर गधे पर बैठा कर भरे बाजार में घुमाया था। गौरतलब है की इस घटना का वीडियो भी मीडिया में आ गया था  इस पर पुलिस कप्तान ने गौर करते हुए काम शुरू कराया और आखिरकार शुक्रवार को पुलिस ने दुकानदार सहित 10 लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया साथ ही मुख्य आरोपी मदन मोदनवाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर किया। जिसे शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया गया जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। जहानागंज थाने के डीहा बाजार में मंगलवार की रात में एक दुकान में चोरी का प्रयास करने का आरोप लगा कर बाजार वालों ने डीहा गांव निवासी विरेंद्र राजभर को बंधक बना लिया था। अगले दिन बुधवार को उसका मुंडन कर मुंह में कालिख पोत कर गधे पर बैठा कर भरी बाजार में घुमाया था। इसकी जानकारी होने पर जहानागंज थाने की पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल की,तो मामला चोरी का नहीं पाया गया। जहानागंज थानाध्यक्ष अंगद तिवारी ने बताया कि चोरी का कोई साक्ष्य नहीं मिला है और न ही किसी ने थाने में तहरीर ही दी है। इस बीच डीहा गांव निवासी लल्लन राजभर पुत्र जलभरत राजभर ने गुरुवार को पुलिस को तहरीर दी कि उसके बेटे विरेंद्र राजभर को डीहा बाजार में चाय,समोसा का उधार पैसा न देने पर पूरी रात हाथ,पैर बांध कर बंधक बनाए रखा गया। अगले दिन बुधवार को सिर का बाल मुड़वा कर मुंह में कालिख पोत कर भरे बाजार में घुमाया गया। जहानागंज थानाध्यक्ष अंगद तिवारी ने बताया कि पीड़ित विरेंद्र राजभर के पिता की तहरीर पर आरोपी चाय विक्रेता डीहा गांव निवासी मदन मोदनवाल पुत्र मुरारी मोदनवाल, बड़े सिंह पुत्र प्रेम सिंह,रामप्रसाद यादव पुत्र अज्ञात,मुचरू प्रजापति पुत्र सुक्खू प्रजापति,आनंद मौर्य पुत्र शिवपूजन,सदानंद मौर्य पुत्र शिवपूजन,लड्डन मौर्य पुत्र अज्ञात, संतोष गोंड पुत्र दरगाही,सुनील जायसवाल पुत्र इंद्रासन जायसवाल और बबलू पुत्र दामोदर के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया गया है। मुख्य आरोपी चाय विक्रेता मदन मोदनवाल को गुरुवार को सुबह गिरफ्तार कर लिया गया, बाद में वह शुक्रवार को जेल भेज दिया गया। जबकि अन्य नामजद आरोपियों की तलाश की जा रही है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment