.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

लगी चौपाल ::अपने बीच मंडलायुक्त को पा ग्रामीणों का छलका दर्द


आज़मगढ़ 25 जनवरी -- मण्डलायुक्त के.रविन्द्र नायक ने अपने शीतकालीन भ्रमण के दौरान वृहस्पतिवार को अपरान्ह में विकास खण्ड रानी की सराय अन्र्तगत ग्राम पंचायत फिरुद्दुपुर में हुए विकास कार्यों तथा अन्य योजनाओं को निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान ग्राम पंचायत के मेला स्थल पर आयोजित चौपाल में ग्राम वासियों के रूबरू हुए। इस दौरान उन्होंने पाया कि गांव के दो पूरवों में कुल 14 बच्चे सामान्य से कम वज़न के पाये जाने पर सख्त नाराज़गी व्यक्त करते हुए उपस्थित आगनबाड़ी कार्यकत्री एएनएम एवं चिकित्सक को निर्देश दिया कि प्रतिदिन इन बच्चों के सम्पर्क में रहें तथा इनकी मानीटरिंग करें, आवश्यकतानुसार इन्का इलाज करें। निरीक्षण के दौरान उपस्थित ग्राम वासियों से उनकी समस्यायें भी सुनी तथा सम्बन्धित अधिकारियों को निराकरण हेतु निर्देश दिया। ग्राम वासियों ने बतया कि गावं से होकर जाने वाली शारदा सहायक खण्ड-32 की नहर पट गयी है जिससे सिंचाई कार्य प्रभावित हो रहा हैं। इस पर मण्डलायुक्त श्री नायक ने सम्बन्धित अधिशाषी अभियन्ता को मनरेगा से काम कराकर तत्काल माईनर को साफ एवं संचालित कराते हुए एक सप्ताह के अन्दर वस्तुस्थित से अवगत कराने का निर्देश दिया। उन्होंने गावं में विद्युतिकरण का जायज़ा लेते हुए पाया कि कुल 266 घरों पर आधारित इस गावं में केवल 46 कनेक्शन ही लिये गये हैं। मण्डलायुक्त ने विद्युत विभाग को निर्देशित किया कि 31 जनवरी को निःशुल्क विद्युत कनेक्शन हेतु गांव में कैम्प लगायें। इसीक्रम में उन्होंने ग्राम वासियों से कहा कि कैम्प में अपना आवेदन पत्र देकर विद्युत कनेक्शन लेलें, यदि 31 जनवरी के बाद अवैध रूप से विद्युत का उपयोग करते हुए किसी को पाया जाता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जायेगी। ग्राम वासिष्यों द्वारा बताया गया कि सरकारी स्कूल के पास अवैध रूप से लोग मुर्दे गाड़ते हैं जबकि कब्रिस्तान की ज़मीन सुरक्षित है, इस पर मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि कब्रिस्तान की और स्कूल की अलग अलग बाउण्ड्री करा दी जाये। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत भवनों की स्थिति का जायज़ा लेते हुए पाया गया कि कुल 26 स्वीकृत आवास के सापेक्ष केवल 6 आवास ही पूर्ण हैं शेष पर निर्माण कार्य चल रहा है, इसपर उन्होंने अवशेष आवासों को शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया। मण्डलायुक्त श्री नायक ने इसी क्रम में आवास के पात्र लाभार्थियों से मिलकर वास्तवक्तिा जानी, जिसमें हीरामनी पत्नी वंशी एवं राधिका पत्नी सुरेन्द्र ने बताया कि आवास के पूरे 1 लाख 20 हज़ार उनको मिल गये हैं मकान भी पूर्ण करा लिया गया है तथा परिवार के साथ उसमें रहना भी शुरू कर दिया है। गांव में आरसीसी रोड, नाली निर्माण, आदि का कार्य पूर्ण पाये जाने पर ग्राम प्रधान कृष्णमुरारी यादव की प्रशंसा की साथ ही यह भी कहा कि गावं में खेल कूद की उचित व्यवस्था कराने हेतु प्रस्ताव उपलब्ध करायें। मण्डलायुक्त ने ग्रामत प्रधान से कहा कि गावं के शिक्षित व्यक्तियों को प्रेरणा स्रोत बनाकर गावं में उच्वच शिक्षाका वातावरण सृजित करने में अपना योगदान दें। मण्डलायुक्त ने इस दौरान शिक्षकों की उपस्थिति जानने की ग़रज़ से गांव के प्राईमरी स्कूल में शिक्षारत छोटे छोटे बच्चे अन्जू, सूरत, रवी, आरती आदि से 8, 10, 12 का पहाड़ा भी सूना जो संतोषजनक था। यहां अविवादित वरासत, खाद्यान वितरण, बच्चों में किताब, बैग, ड्रेस वितरण, मिडडे मील में कोई शिकायत नहीं पायी गयी। मण्डलायुक्त ने शौचालय निर्माण की प्रगति धीमी पाये जाने पर असंतोष व्यक्त करते हुए डीपीआरओ को इसमें और तेज़ी लाने का निर्देश दिया।
इस अवसर पर संयुक्त विकास आयुक्त हरिश्चन्द्र वर्मा, अपर ज़िलाधिकारी प्रशासन लवकुश कुमार त्रिपाठी, उप निदेशक पंचायत जयदीप त्रिपाठी, एडी बेसिक, परियोजना निदेशक, बीएसए, सहित अन्य विभागों के मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारी उपस्थित थे।  

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment